रविवार, 7 मार्च 2010

कुछ अन्य महत्वापूर्ण मुहावरे

कुछ अन्य महत्वापूर्ण मुहावरे

इने-गिने, मुहावरा थोड़े से। उस सभा में विशेष भीड़ नहीं थी, केवल इने-गिने ही आदमी पहँच पाये थे ।
इस कान से सुनी उस कान से निकाल दी , मुहावरा ध्यालन न देना।  मास्टभर जी की बात को लड़के इस कान से सुनते हैं और उस कान से निकाल देते हैं। 
उँगली उठाना , मुहावरा  दोषारोपण करना। देखो मनोहर , तुम ऐसा न करो क्योंजकि समाज फिर तुम पर उँगली उठायेगा।
उधेड़ बुन करना, मुहावरा सोच-विचार करना। तुम इसी उधेड़-बुन में रहती हो कि परीक्षा देनी चाहिए या नहीं।
कदम बढ़ाना, मुहावरा  तेज चलना। वीरो , जल्‍दी कदम बढ़ाओ । तुम्हेि चिजय प्राप्ता करिनी है।
कमर सीधा करना, मुहावरा थकावट मिटाना। तुम्हेंा काम करते बहुत देर हो गई है । अब ज़रा कमर सीधा कर लो
कल पड़ना, मुहावरा चैन पड़ना। डाक्टमर के दवा डालते ही मुझे कल पड़ने लगी।
कलेजा खाना, मुहावरा बहुत दिक /जिद्द करना। जाओ रूपये ले जाओ । क्योंग कलेजा खाते हो ?
कलेजा छलनी होना, मुहावरा कड़ी बातो से दिल दुखना। तुम्हाहरी बातों ने मेरा कलेजा छलनी कर रखा है।
कलेजा थामना, मुहावरा जी कड़ा करना। वह तो मर गई। भाई, अब तुम अपना कलेजा थाम कर कुछ खा लो।
कलेजा फटना, मुहावरा दु:खी होना । उत्तहरा के विलाप से सुनने वालों का कलेजा फट जाता है।
कलेज पर हाथ रखना, मुहावरा अपने दिल से पूछना। जरा कलेजे पर तो हाथ रखो कि मैंने जो कहा , ठीक है या नहीं।
कहीं का न छोड़ना, मुहावरा भ्रष्टा करना। सब तरह तुमने मुझे बरबाद कर दिया। कहीं का भी नहीं छोड़ा।
कागज़ काला करना, मुहावरा व्यजर्थ कुछ लिखना। अरे मनोहर ने किताब क्या। लिखा , बस कागज़ काला किया है।
कागज़ी घोड़े दौड़ना, मुहावरा केवल पत्र –व्यखवहारकरते रहना/क्रियात्महक कार्य न करना। केवल कागज़ी घोड़े दौड़ाने से कार्य नहीं होने वाला है । तुम्हेत वहॉं व्ययक्तिगत रूप से उपस्थित होकर कार्य करना होगा।
कॉंटा बोना, मुहावरा विघ्न  डालना। मनोहर तुम संतोष की बुराई कर उपने लिए ही कॉंटा बो रहे हो।
काटो तो खून नहीं, मुहावरा भय के कारण सन्नं रह जाना। अंधेरी रात में जंगल से गुजरने के दौरान शेर की दहाड़ सुनकर मैं सन्न  रह गया, काटो तो खून नहीं।
कान खड़े हो जाना, मुहावरा होश आना। महाप्रबंधक महोदय का भाषण सुनते ही सबके कान खड़े हो गए।
कान पर जूँ न रेगना, मुहावरा बारम्बाजर कहने पर भी किसी बात का प्रभाव न पड़ना। मैंने शीला की बीमारी के बारे में उसके पति को 8-10 पत्र लिखे किन्तुन उसके कान पर जूँ न रेंगी।
कानों कान खबर न होना, मुहावरा ज़रा भी खबर न होना। देखो, मैं यह पत्र लिख रहा हूँ, इसकी किसी को कानों कान खबर न हो।
काम तमाम, मुहावरा मार डालना। चोर धन की लालच में मुंशीजी का काम तमाम कर गये।
काया पलट हो जाना, मुहावरा रूप बदल जाना। श्याकमसुन्दंर जब सेठजी के साथ रहने लगा तो उसका काया पलअ हो गया।
काला नाग, मुहावरा अत्यंनत खोटा व्यवक्ति। मनोहर क्याज है काला नाग है वक्त पड़ने पर धोखा देगा।
किनारा करना , मुहावरा साथ छोड़ना। विपत्ति में मनोहर जैसे मित्र किनारा कर जाते हैं। 
किस खेत की मूली, मुहावरा कुछ भी महत्वू/ सत्तात न रखना। मनोहर किस खेत की मूली है , अभी सेठजी से कह कर निकलवा दूँगा।
किस्मीत खुलना , मुहावरा भाग्यो दय होना। राधा की तो आज किस्मित खुल गई कि उसका पति उसे लेने आ गया।
किस्मोत फूटना , मुहावरा भाग्यो मन्दन होना। मिल में आग लगने के बाद सेठजी की किस्म त ही फूट गई।
कुऑं खोदना, मुहावरा हानि पहुँचाने का यत्न। करना। सेठजी की बुराई करके मनोहर ने अपने लिए ही कुँआ खोद लिया।
कुत्ताह काटना, मुहावरा पागल/मूर्ख होना। मुझे क्याु कुत्तेई ने काटा है दूसरे के एस्कादर्ट ड्यूटी को अपने सिर पर लूँ।
कुप्पाह होना, मुहावरा मोटा होना। ज़रा कम ही खाया करो,  फुलकर कुप्पाे तो हो गए हो।
कुरसी देना, मुहावरा इज्जीत करना। बड़े आदमियों को हमेशा कुरसी देनी चाहिए।
कुछ दिन का मेहमान, मुहावरा मरणासन्नक। इसे क्यों  तंग करते हो । यह तो कुछ दिन का मेहमान है।
कोख की ऑंच, मुहावरा संतान का वियोग। कोख की ऑंच सहन करने की अपेक्षा औरतें मृत्यु। पसंद करती हैं।
कोख उजड़ना, मुहावरा संतान का मर जाना। हाय, अब मैं क्या् करूँगी , मेरी तो कोख उजड़ गई।
कोरा रखना, मुहावरा कुछ न सिखाया। मुझे तम्हावरे यहॉं रहते हुए इतने दिन हो गए पर तुमने तो मुझे कोरा ही रखा।
कोसों दूर भागना , मुहावरा बचे रहना। सतीश तो शराब से कोसो दूर भगता है।
कोड़ी को न पूछना, मुहावरा बिल्कुकल निकम्मास। मनोहर के पास कोड़ी का काम नहीं है।
कौड़ी-कौड़ी को मोहताज, मुहावरा बिल्कुकल धन न होना। अगर मनोहरइसी तरह पैसा लूटाता रहा तो वह कौड़ी-कौड़ीका मोहताज हो जाएगा। 
क्याक पड़ी है, मुहावरा क्याक परवाह है। आपको दूसरों की क्या  पड़ी है, आप तो अपनी जेब गर्म करना चाहते हैं।
क्याक मुँह दिखाना, मुहावरा लज्जाु के मारे किसीके सामने जाने योग्या न रहना। मेरी गलती से उसका धन नष्ट् हो गया, अब मैं उसे क्याो मुँह दिखॉऊ।
खटाई में डालना, मुहावरा काम में व्यलर्थ की देर करना। साहब ने फैसला ही नहीं दिया, मामला खटाई में डाल रखा है।
खरी-खरी सुनाना, मुहावरा कड़वी किन्तुख सत्य  बात कहना। मैंने मनोहर को खरी - खरी सुना दी।
खरी –खोटी सुनाना , मुहावरा दुर्वचन सुनाना। यदि वे मुझसे कुछ कहेगे तो मैं भी उनहें खरी –खोटी सुनाऊँगा।
खाक डालना, मुहावरा छिपाना। तुम उसकी करतुत पर खाक डालने की चाहे जितनी कोशिश करो वह बात छिपेगी नहीं।
खाक में मिलाना, मुहावरा बिगाड़ना। इस आदमी ने तो मनोहर को को खाक मिलाकर ही छोड़ा।
खाने को दौड़ना, मुहावरा एक दम गुस्सान आ जाना। मैं सही बात कहता हूँ , आप खाने को दौड़ते हो।
खालाजी का घर, मुहावरा आसान काम । इस सवाल को हल करना खालाजी का घर नहीं है।
खुशामदी टट्टू, मुहावरा हॉं में हॉं मिलानेवाला। मनोही की बात का क्या। ठीक वह तो अपना मतलब निकालने के लिए खुशमदी टट्टू बना हुआ है।
खून का प्या सा, मुहावरा मारने की इच्छाल वाला। आप तो मेरे खून के प्या से है जो रोत़ लड़ते रहते हैं।
खून खुश्कइ होना, मुहावरा अत्यंुत भयभीत होना। भेडियों को देखकर भेड़ का खून खुश्कै हो गया।
खून खौलना, मुहावरा उत्तेौजित होना। आतंकवादियों का अत्या चार देखकर मेरा खून खौलने लगता है।
खून बहाना, मुहावरा मार डालना। आतंकवादी आम लोगों का खून बहाकर कभी अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पाएंगे।
खोपड़ी गंजी करना, मुहावरा बेहद मारना। यदि फिर तुमने ऐसा किया तो मारते 5मारते तुम्हाहरी खोपड़ी गंजी कर दूँगा।
गड़े मुर्दे उखाड़ना , मुहावरा भूली बात को पुन: याद दिलाना। क्योंा गड़े मुर्दे उखाड कर माहेल खराब कर रहे हो, अब तो सब कुछ ठीक चल रहा है। 
गर्दन उठाना, मुहावरा प्रतिवाद करना। अफसर के सामने गर्दन उठाने की किसकी हिम्ममत। 
गर्दन झुकाना, मुहावरा आज्ञाकारी होना।मोहन प्रत्येाक कार्य के लिए गर्दन झुका देता है। 
र्ग्छकन पर छूरी फेरना, मुहावरा अत्याकचार करना। सरदार, आपने तो हम सब की गर्दन पर छूरी फेर दी है। 
गर्दन पर सवार होना, मुहावरा पीछा न छोड़ना। मनोहर तो मेरी गर्दन पर ही सवार रहता हे। 
गदम होना, मुहावरा नाराज़ होना। हम तुम्हेंा किताब की कीमत दे देंगे, इतना गरम क्योंख होते हो ?
गला काटना, मुहावरा अधिक कष्टन देना। तुम हमारा ही गला काट रहे हो जनाब। 
गला घोटना, मुहावरा जबर्दस्तीन करना। फसल तो खराब हो गई , जमींदार लोग किसानों का गला घोंटकर लगान वसूल कर रहे हैं।
गला छूटना, मुहावरा छुटकारा मिलना। उसके जाने से ही मेरा गला छूटा। 
गला फँसला, मुहावरा   बंधन में पड़ना,विवश होना। मैंने तो जान –बुझकर अपना गला फँसा लिया है। 
गले का हार, मुहावरा अति प्रिय। मुन्‍नी तो अपनी मौं के गले का हार है। 
गाल बजाना, मुहावरा बिना योग्य ता के शेखी मारना। बल-बुद्धि तो इसमें है नहीं,वृथा ही गाल बजाता रहता है। 
गुरूवार घंटाल, मुहावरा बड़ा चालाक। वह बड़ा गुरूवार घंटाल है , उससे सावधानी से बात करना। 
गुल खिलना, मुहावरा किसी ऐसी बात का होना जो पहले से ध्या न में न आई हो। पंडित जी तो कहते थे कि चिट्ठी उन्हों।ने लिखी ही नहीं , लो यह नया गुल खिला। 
गुलछर्रे उड़ाना, मुहावरा आनन्द् करना। उनके जाने से तो अब खूब गुलछर्रे उड़ेंगे। 
गुस्सार पीना, मुहावरा अन्दसर ही अन्दकर कुद्ध होना पर उसे प्रकट नहीं करना। मैं उस समय गुस्साट पीकर रह गया क्यों कि माहौल खराब करना उचित नहीं था। 
गूंगे का गुड़, मुहावरा अवर्णनीय सुख। भक्तअ को जो भगवान के चिन्तसन में आनन्दी मिलता है वह तो कहा ही नहीं जा सकता । वह तो गूंगे का गुड़ ही रहेगा। 
गाढ़े का साथी, मुहावरा संकट का मित्र। कपिल मेरा गाढ़े का साथी है । 
गोली मारना, मुहावरा किसी बात का पीछा छोड़ देना। यार गोली मारो, एक रूपया खो गया तो खो गया , कोइ्र बात नहीं। 
घड़ों पानी पड़ना, मुहावरा अत्यंन्त  लज्जित होना। जब युवक को मालूत हुआ कि जो व्योक्ति उसका सामान स्‍टेशन तक ढो कर लाया वहीं ईश्वंरचंद विद्यासगर है तो उस पर घड़ों पानी पड़ गया। 
घर का आदमी, मुहावरा अपने कुल का आदमी।इससे क्याह छिपाव, यह तो घीर का आदमी है।
घर काटने को दौड़ता है, मुहावरा घर में जी नहीं लगना। उस लोगों के चले जाने के बाद घर काटने को लगता है। 
घर का शेर, मुहावरा  घर में ही बल दिखाना। घर मेंही शेर हो , बाहर लड़ो तो जाने।
घर का रास्ता  लेना, मुहावरा चले जाना। बस काम हो गया , अब अपने घर का रास्ताो लो। 
घर तक पहुँचना, मुहावरा समाप्ति पर पहुँचना। इस बात को घर तक पहुँचा दो, पर यार घर तक पहुँचाना खालाजी का घर नहीं है। 
घर बसाना, मुहावरा शादी हो जाना और घर की हाल सुधर जाना। यार कब तक अकेले रहोगे। घर क्यों  नहीं बसा लेते ?
घर सिर पर उठाना, मुहावरा बहुत शोर मचाना। इन बच्चों  की दशहरे की छुट्टियाँ कब खत्म  होंगी, पूरे घर को सिर पर उठा लिया है। 
घर बैठे, मुहावरा बिना परिश्रम किए । चलो घर बैठे काम बन गया। 
घाट-घाट का पानी पीना, मुहावरा प्रत्येिक स्थाान व परिस्थिति का अनुभव करना। हमने घाट –घट का पानी पिया है । ऐसे ही तुम्हाउरी बात में नहीं आने वाले हैं। 
घास खोदना, मुहावरा व्य र्थ समय गँवाना। दिल्लीर में रहकर भी घास खोदी। 
घी के दीवे जलाना, मुहावरा प्रसन्नी होना। आई.ए.एस. में पुत्र के चयन होने पर मनोहरलाल ने घी के दीये जलाये। 
घुल-घुल कर मरना, मुहावरा बहुत दिनों तक कष्ट  भोगना। उसने बड़े पाप किए थे इसलिए तो वह घुल-घुल कर मरा। 
चम्प त होना, मुहावरा खिसक जाना। पिताजी को आते देख मनोहर के यार दोस्तइ चम्पुत हो गए।
चकमा देना, मुहावरा धोखा देना। ऐसा दुष्टम लड़का है कि हमको भी चकमा दे गया। 
चक्क र में डालना, मुहावरा भ्रम में डालना। मैंने उन्हें  ऐसा चक्ककर में डाला कि वे मुँह देखते ही रह गए। 
चंगुल में फँसना, मुहावरा अधिकार या काबू में आना। इतने दिनों के बाद आज मेरे चंगुल में शिकार फँसा है।  
चट कर जाना, मुहावरा सब खा जाना। दो सेर लड्डू लाया था, लड़के सब चट कर गए। 
चलता करना, मुहावरा जल्दीक से काम निबटाना। मुझे बहुत देर हो रही है, अभी तक  तुमहारा काम ही नहीं खत्म  हुआ। जैसा भी बने उसे चलता करो। 
चल बसना, मुहावरा मृत्युा होना। आज कान्ति के पिता इस संसार से चल बसे। 
चहल – पहल मचाना, मुहावरा रौनक होना। शादी के दिनों में बेटे और बेठी वाले के घर में बड़ी चहल-पहल मची रहती है।
चॉंदी का जूता, मुहावरा रूपयों का लालच। उसके मुकद्दमें में जान तो न थी लेकिन चॉंदी का जूता बुरा होता है । उसका काम बन गया। 
चादर के बाहर पैर निकालना, मुहावरा आय से अधिक व्यैय करना। कोरी शान में आकर इतना खर्च कर डाला। चादर के बाहर पैर निकालने में घर की बरबादी के सिवाय कुछ भी नहीं है। 
चार पैसे होना, मुहावरा धन होना। आपके पास चार पैसे होंगे तो आपको सब पूछेंगे। 
चारों खाने चित्तस गिरना, मुहावरा पूरी तौर से परास्तच हो जाना। रूस ने जर्मनी को शीघ्र ही चारों खाने चित्ता गिरा दिया। 
चाल चलना, मुहावरा धूर्तता करना, धोखा देना। मनोहर ने ऐसी चाल चली की निर्दोष संतोष को प्रबंधन से चेतावनी पत्र प्राप्तु हुआ।  
चाल में आना, मुहावरा धोखे में आना। मनोहर बड़ा दुष्टर है , उसकी चाल में न आना। 
चाल सुधारना, मुहावरा आचरण सुधारना। दूसरों को उपदेश देने से पहले अपनी चाल तो सुधारो। 
चिन्ताु सवार होना, मुहावरा फिक्र रहना। विद्यार्थियों पर हमेशा परीक्षा की चिन्ता  सवार रहती हे। 
चिऊँटी के पर लगना, मुहावरा मृत्यु  के समीप होना। मनोहर हर किसी से लड़ाई मोल लेने को तैयार रहता है । मालूम होता है कि चिऊँटी के पर लगने लगे हैं। 
चिकनी –चुपड़ी बातें करना, मुहावरा मीठी-मीठी बातें करना। डाकुओं ने सेठ को चिकनी-चुपड़ी बातों द्वारा चंगुल में फँसा लिया। 
चित्तर पर चढ़ना, मुहावरा उस नाटक की नायिका मेरे चित्त, पर अब तक चढ़ी हुई है। 
चिराग बुझाना, मुहावरा इकलौते बेटे का मरना। बुढ़ापे में उसका यह चिराग भी बुझ गया। 
चुटकियों में , मुहावरा अतिशीघ्र। बिना किसी परिश्रम के उसकी बातों को तो आपने चुटकियों में ही उड़ा दिया। 
चुप साधना, मुहावरा मौन धारण करना। इन्हेंु तमाम का म बिगाड़ कर चुप साधने की आदत पड़ी हुई है । 
चूँ न करना , मुहावरा प्रतिवाद या जवाब में कुछ न कहना। साहब ने मनोहर को बहुत फटकारा पर उसने चूँ तक न की। 
चूडिया पहनाना, मुहावरा कायरतावश स्त्रियों का वेष धारण करना। यदि मैदान में वीरों की भॉंति लड़ नहीं सकते तो घर जाकर चूडियाँ पहन कर बैठो। 
चूल्हें। में डालना, मुहावरा नष्टह-भ्रष्टध करना। चूल्हेद में डालो ऐसी नौकरी को जो अपना भी घर छुड़ा दे। 
चूल्हां न जलना, मुहावरा  हालत खराब होना। उनकी इतनी हालत खराब हो गई कि चार दिन तक चूल्हाो भी न जला। 
चेहरा उतरना, मुहावरा उदास होना। गजट में अपना नाम न देखकर मोहन का चेहरा उतर गया। 
चेहरे पर हवाइयॉं उड़ना, मुहावरा भयभीत होना। भरतीय फौज के आने की खबर सुनते ही पाकिस्ता।नी फौजियों के चेहरे पर हवाइयॉं उड़ने लगी। 
चैन की बंसी बजाना, मुहावरा आराम से दिन काटना। परीक्षा समाप्तर हो गई । अब तो चैन की बंसी बजाना है। 
चोला बदलना, मुहावरा नई सज-धज धारण करना। नौकरी मिलते ही उसने अपना चोला बदल दिया। देखो तो कितना बढिया कोट पहने हुए है। 
चौका लगाना, मुहावरा सत्यालनाश करना, किए को मिटा देना। सेठजी ने तो खूब नाम और धन कमाया पर उनके लड़के ने सारी सम्प त्ति पर चौका लगा दिया। 
छँटा हुआ, मुहावरा बदमाश। बात तो बड़ी मीठी करते हैं, लेकिन हजरत छँटे हुए हैं ।
छक्के। छुड़ाना, मुहावरा मुट्ठी भर भारतीय सेना के जवानों ने पाकिस्तामनी सेना के 400 जवानों के छक्केक छुड़ा दिए। 
छटी का दूध याद आना, मुहावरा भारी संकट पड़ना। भारतीय सेना का सामना करते ही पाकिस्ताेनी सेना को छटी का दूध याद आ गया। 
छप्प र फाड़कर देना, मुहावरा बिना परिश्रम देना। हाय-हाय करने से कोई लाभ नहीं है ईश्व र को देना होगा तो डप्प र फाड़ कर देगा। 
छाती ठोकना, मुहावरा दृढ़ता के साथ कहना। उसने छाती ठोककर कहा कि वह उस काम को सफलतापूर्वक करेगा। 
छाती पर पत्थथर रखना, मुहावरा चुपचाप सहना। उससे उसका प्रोजेक्ट  कार्य लेकर उसे नकारा सिद्ध कर दिया गया फिर भी एसने यह दु:ख छाती पर पत्थसर रखकर सहन कर लिया।
छान मारना, मुहावरा अव्छीा तरह ढूँढ़ना। मैंने सारा घर छान मारा पर वह पुस्तकक कही नहीं मिला।
छुट्टी पाना, मुहावरा छुटकारा पाना। लड़की का ब्यााह हो जाए तो सारी दुनिया के कामों से छुट्टी पा जॉंऊ। 
छोटी मुँह बड़ी बात, मुहावरा अपनी हैसियत से बढ़कर बात करना। मनोहर है तो अदना कर्मचारी और महाप्रबंधक महोदय के साथ मुँह लड़ाता है । यही है छोटे मुँह बड़ी बात का उदाहरण। 
ज़बान पर धरा होना, मुहावरा अच्छी  तरह से याद होना। रामायण की एक –एक कथा मेरी ज़बान पर धरी है। 
ज़बान पर लगाम न लेना, मुहावरा उचित – अनुचित का ख्या।ल न रखना। मनोहर की ज़बान में लगाम नहीं है , जो मुँह में आता है कह डालता है।
ज़बान बदलना, मुहावरा कही हुई बात से फिरना। मनोहर पर विश्वाास नहीं करों वह तो पल-पल में ज़बान बदलता रहता है। 
ज़बान पर आना, मुहावरा मुँह से निकलना। मिनल की कही बात-बार मेरी ज़बान पर आ रही है। हमें उसकी मदद करनी खहिए।
ज़बानी जमा-खर्च, मुहावरा बातें बहुत करना, काम कुछ न करना।तुम्हें़ ज़बानी जमा –खर्च करना आता है , कुछ काम करके भी दिखाओ। 
जमीन पर पैर न रखना, मुहावरा बहुत आराम से रहना। राजा साहब की पुत्री है जमीन पर पैर भी नहीं रखती है। 
जलती आग में तेल डालना, मुहावरा लड़ाई बढ़ाना। मनोहर झगड़े को खत्मु करने की जगह जलती आग में तेल डाल आया।
जल –भुन कर कोयला होना, मुहावरा ईर्ष्या से पागल होना। संतोष को ईनाम मिले जाने पर मनोहर जल –भुन कर कोयला हो गया।  
ज़हर का घूँट पीना, मुहावरा अनुचित बात को सहन करना, क्रोध दबाना। मैं उस समय आप की बात को चहर की घूँट की तरह पी पीकर रह गया।
ज़हर मालूम होना, मुहावरा अति अप्रिय लगना। कैकेयी को राम का राज्या भिषेक ज़हर मालूम हुआ। 
जान का रोना, मुहावरा द़ु:खित होकर कोसना। तुमने मो जुए में सब –कुछ खो दिया । अब यह छोटे-छोटै बच्चेर किसकी जान को रोयेंगे ? घर में खाने को भी नहीं है।   
जान खाना, मुहावरा तंग करना। मेरी जान न खाओ भगवान के वास्ते  मेरा पीछा छोड़ो। 
जान छ़ड़ाना, मुहावरा प्राण बचाना। इस समय तो यहॉं से जान छ़ड़ाकर भागना ही ठीक है । 
जान छुटना, मुहावरा निस्ताटरा होना। इससे अब मेरी जान छुट गई। अब तुम जानो और तुम्हा रा काम ।
जान देना, मुहावरा अधिक चाहना। मैं तुम पर जान देता हूँ परतुम्हेंई मेरी तनिक भी परवाह नहीं है।
जान में जान आना, मुहावरा जी ठिकाने होना। मै तो बड़ा परेशान था, अब तुम्हाेरे आने से मेरी जान में जान आ गई।
जान लड़ाना, मुहावरा कठोर परिश्रम करना। अगर जीतना चाहते हो तो चुनाव में सब को जान जान लड़ानी पड़ेगी।
जान सूखना, मुहावरा बुरा लगना/ भय से सहम जाना। 1. काम करने में तो तुम्हाारी जान सूखती है। 2. घर में डाकू देखकर रिता की जान सूख गई।
जान होठों पर होना, मुहावरा बहुत अधिक कष्टो होना। दर्द के मारे मेरी जान होठों पर आ गई है।
जामें से बाहर होना, मुहावरा आपे से बाहर होना। जामे से बाहर क्यों  हो रहे हो । तुम्हांरा काम तो कल ही कर दिया है।
जिन्देगी के दिन पूरे करना, मुहावरा दिन काटना। भाई क्याद है, घर तो तबाह हो ही गया , अब तो किसी तरह जिन्दीगी के दिन पूरे कर रहे हैं।
जिन चढ़ना, मुहावरा एक साथ गुस्से  का आवेश हो आना। उसको तो कभी-कभी गुस्सेा का जिन सा चढ़ जाता है ।
जी अच्छाु होना, मुहावरा स्वअस्थछ होना। अब तो आपका जी अच्छाह है, बुखारा उतरा या नहीं।
जी उचटना, मुहावरा चित्तट न लगना। अब तो यहॉं से मेरा जी उचट गया है, मैं अपने गॉंव जाना चाहता हूँ।
जी कॉंपना, मुहावरा डर लगना। एसकी भयानक आकृति देख कर मेरा जी कॉंप गया।
जी का बुखार निकलाना, मुहावरा दबे हुए विद्वेष को प्रकट करना। मनोहर हर जगह मेरी बुराई करता रहता है , अच्छाा है जी का बुखार निकाल दे।
जी का बोझ हल्का  होना, मुहावरा चिन्ताब – रहित होना। अकेला मैं बड़ा परेशान था,तुम्हाॉरे आने से मेरे जी का बोझ हल्कार हो गया। 
जी को मारना, मुहावरा इच्छा ओं को रोकना। नई मोटर साइकिल खरीदना चाहता हूँ पर पैसे नहीं होने के कारण जी मार कर रहना पड़ रहा है।
जी खट्टा होना, मुहावरा  प्रेम न रहना। तुम्हाररे इस व्यिवहार से मरा जी खट्टा हो गया है।
जी खोलकर, मुहावरा संकोच रहित। लड़की के विवाह में उसने जी खोलकर धन का व्य य किया।
जी जलना, मुहावरा चित्तन में कुढ़ना। इस कपूत को देखकर मेरा बड़ा जी जलता है।
जी छोटा होना, मुहावरा उत्साटह कम होना। फेल हो गई तो क्या  हुआ, जी छोटा न करो, और मेहनत करो। सफलता अवश्यक प्राप्त। होगी।
जी-जान से , मुहावरा सारा ध्याोन लगाकर । जी- जान से पढ़ाई करना बेटे।
जी टँगा रहना, मुहावरा जी में खटका बना रहना। रमा के बीमार होने से मेरा जी वही टँगा रहता है। 
जी टूटना, मुहावरा निराश होना। मित्रों के तानों से मेरा जी टूट गया ।
जी‍ती मक्खीक निगलना, मुहावरा सरासर बेईमानी करना। जब तुमने उससे कर्ज लिया तो उसका पैसा वापस क्यों। नहीं करते ? क्यों  जीती मक्खीप निगलते हो ?
जी निकलना, मुहावरा प्राण सूखना। पढ़ाई के नाम से तो इस लड़के का जी निकलने लगता है।
जी में बैठना, मुहावरा सत्ये प्रतीत होना। सौ रूपये खो जाने की झूठी बात मालिक के जी में बैठ गई। वह हमेशा मुझ पर संदेह करता है। 
जूत लगना, मुहावरा नुकसान होना। एसकी ज़रा सी-गलती के कारण आज मेरे ही सिर पर दो-सौ जूत लगा।
जूता चाटना, मुहावरा चापलूसी करना। मूझे तो भगचवान पर भरोसा है । मैं क्यों  किसी के जूता चाटू ?
जूतियॉं चटखाते फिरना, मुहावरा व्यिर्थ इधर-उधर बेकार घूमना। आज कैसी बढद्य-बढ़ कर बाते बनाते हैं, कल तक तो जूतियॉं चटचाते फिरते थे।
जूतों से खबर लेना, मुहावरा जूतो से पीटना। अबर फिर ऐसा किया तो जूतों से खबर लूँगा।
जोड़-तोड़ करना, मुहावरा उपाय करना। वह जोड़-तोड़ कर हजार रूपये दिन में बना लेता है।
जोर पकड़ना, मुहावरा बढ़ना। आजकल लड़ाई बहुत जोर पकड़ रही है।
झख मारना, मुहावरा व्यमर्थ समय गँवाना। क्योह झख मार रहे हो । जाकर समय का सदुपयोग क्यों  नहीं करते ?
झगड़ा मोल लेना, मुहावरा लड़ाई का कारण पैदा करना। तुमने उसे छेड़ कर उससे झगड़ा मोल ले लिया है।
झाड़ू फरेना, मुहावरा सब बरबाद करना। तुमने सारे किए धरे पर झाडू फेर दिया है।
झूठ सच कहना, मुहावरा निन्दा  करना। मनोहर तुम मेरे बारे में क्यों  लोगों को झूठ सच कहा करते हो ?
टकटकी बॉंधना, मुहावरा अपलक देखना।रामचन्द्र जी पुष्प  वाटिका में सीताजी की ओर टकटकी बॉंधे देख रहे थे।
टकसाली बोली, मुहावरा सर्वमान्यल शुद्ध भाषा। इतनी टकसाली भाषा का प्रयोग न करो ग्रामीण तुम्हेंं नहीं समझ पाएंगे।
टक्कमर का , मुहावरा जोड़ का । भीमा पहलवान को आखिर उसकी टक्कलर का पहलवान मिल ही गया।
टट्टी की ओट शिकार खेलना, मुहावरा गुप्तर रूप से षड्यन्त्रउ करना। लड़ना है तो सामने आओ, टट्टी की ओट शिकार क्यों। खेलते हो ?
टपक पड़ना, मुहावरा अचानक कहीं से आ जाना। ओह आप, आज आप कहॉं से टपक पड़े ?
टस से मस न होना, मुहावरा ज़रा भी न हिलना। अतना कहने पर भी वह टस से मस न हुआ, अपनी जिद्द पर अड़ा रहा।
टॉंग तोड़ना, मुहावरा अपनी बढ़ाई के लिए शुद्ध-अशुद्ध प्रयोग करना। मनोहर क्यों  हिन्दी  की टॉंग तोड़ रहे हो ?
टॉंग पसार कर सोना , मुहावरा निश्चिन्त  होना। परीक्षा समाप्ता हुई और मनोहर टॉंग पसार कर सो रहा है।
टॉंय-टॉंय करना, मुहावरा व्यर्थ की बातें करना। फिजूल की टॉंय-टॉंय करते हो , कुछ मतलब की बात हो तो कहो । 
टाल मटोल करना, मुहावरा बहाने बनाना। जो कुछ कहना है साफ-साफ कह दो । टाल –मटोल क्योंल करते हो ?
टुकड़ों पर पलना, मुहावरा पराई कमाई पर गुज़र बसर करना। दूसरों पर टूकड़ों पर पल कर इतना एठन न दिखाओ।
टेढ़ी ऑंख से देखना, मुहावरा शत्रुता की दूष्टि से देखना । मुझे टेढ़ी ऑंख से देखकर क्याक बिगाड़ लोगे ?
टोपी उछालना, मुहावरा निरादर करना। मनोहर को दूसरों की टोपी उछालने में मज़ा आता है।
ठइरी होना, मुहावरा दुर्बल होना। बीमार रहने के कारण वह बिल्कुमल सूखकर ठठरी बन गया है।
ठिकाना करना, मुहावरा जगह करना। आप तो सर्विस कर ही रहे हो । कहीं इनका भी ठिकाना कर दो।
ठिकाने आना, मुहावरा असली बात कहना। इतनी बहस के बाद अब ठिकाने पर आये हो।
ठिकाने लगाना, मुहावरा उपयोग करना। जानवरों ने मिलकर सारे चारे को चन्द। घझटों में ठिकाने लगा दिया।
ठोकना बजाना, मुहावरा जॉंचना –परखना। जो चीज़ खरीदो पहले उसे अच्छीठ तरह से ठोक बजा कर देख लो।
ठोकरें खाना, मुहावरा भूल करके नुकसान उठाना। मनुष्यर को ठोकरें खाकर ही अक्लर आती है।
डंका बजाना, मुहावरा शासन होना। मध्य कालिन भारत के दौरान शिवाजी महाराज का पूरे भारत में ड़का बजता था। 
डंडे बजाते फिरना, मुहावरा निकम्माा घूमना। मेरी बात नहीं मानोगे तो जीन्द गी भर डंडे बजाते फिरोगे।
डूब मरना, मुहावरा लज्जार के मारे मर जाना। तुम्हेंो डूब मरना खहिए ज़रा सा भी काम नहीं कर पाये।
डूबती नाव को पार लगाना, मुहावरा संकट से छुड़ाना। भगवान मेरी डूबती नाव पार लगायेंगे।
डेरा –डंडा उखाड़ना, मुहावरा अपना सामान ले जान।गंगा स्नाान समाप्ता होने पर वहॉं से सब के डेरे –डंडे उखड़ गए।
डोरी ढीली छोड़ना, मुहावरा देख-रेख कम करना। मॉं बाप ने जरा डोरी ढीली की कि बालक बिगड़ा।
ढेर करना, मुहावरा मारकर गिरा देना । भारतीय सेना ने 05 आतंकवादियों को चन्दि मिनटों में ही ढेर कर दिया।
तलवार का हाथ , मुहावरा तलवार का प्रहार। शत्रुओं से घिर जाने पर उसने ऐसे तलवार के हाथ दिखाए कि सब कोई वहॉं से भाग खड़े हुए।
तलवे चाटना, मुहावरा चापलूसी करना। तुम्हाररी तलवे चाटने की आदत अच्छीे नहीं ।
तवा – सा मुँह, मुहावरा काला मुँह। बनते है अंग्रेज पर मुँह तो देखो तवा सा है।
तशरीफ़ का टोकरा, मुहावरा चले जाना । आप अब यहॉं से अपने तशरीफ़ का टोकरा ले जाएं।
तशरीफ़ रखना, मुहावरा बैठना। आइए तश्री फ़ रखिए।
तशरीफ़ लाना, मुहावरा पदार्पण करना। क्याह आप कल इस समय यहॉं तशरीफ़ ला सकते हैं।
ताक-झॉंक करना, मुहावरा लुक-छिपकर देखना। ताक-झॉंक क्योंश कर रहे हो ?
ताक में रहना, मुहावरा मौका देखते रहना। दोखो, बिल्लीं भी चूहों की ताक में बैठी है।
ताज़ा करना, मुहावरा याद कर लेना। आज मुकद्दमे की तारीख है , अपना बयान ताज़ा कर लो।
तानकर सोना, मुहावरा निश्चिसन्त  होकर सोना। तुम तो तानकर सो रहे हो और वह वहॉं तुम्हाठरा इंतजार कर रहा है।
तार टूटना, मुहावरा चलता क्रम बन्दन होना। अब उसके पत्र 5व्य वहार का तार टूट गया हे।
तार बँधना, मुहावरा क्रम बँधना। आजकल उनके लेखों का खूब तार बँध रहा है।
मिनका दॉंतों से दबाना, मुहावरा दीन होकर विनती करना।शिवाजी के पहुँचते ही उनके शत्रुओं ने मिनके दॉंतो से दबा लिये।
तिल –तिल , मुहावरा थोड़ा-थोड़ा। ऐसे तिल –तिल से मरने से अच्छाॉ है एक साथ मौत आ जाए।
तिल धरने की जगह न होना, मुहावरा अत्यवधिक भीड़ होना। शाम 6 बजे के बाद मुम्बचई के लोकल ट्रेनों में तिल धरने की जगह नहीं होती है।
तिलांजलि देना, मुहावरा  छोड़ देना। मैंने भौतिकतावादी जीवन को तिलांजलि देने का मन बना लिया है।
तीन – तेरह करना, मुहावरा तितर –बितर करना। पुलिस के आते ही सारे उपद्रवी तीन –तेरह हो गए।
तीन –पॉंच करना, मुहावरा बात-बात में आपत्ति उठाना/झगड़ा करना। मनोहर अभी तक तुम्हाहरी बहुत सुन चुका हूँ। अब ज्यानदा तीन –पॉंच मत करो।
तू-तू मैं –मैं, मुहावरा लड़ाई –झगड़ा । रोज़ – रोज़ की तू - तू मैं - मैं से अच्छाू है कि अलग रहा जाए।
तेवर चढ़ना, मुहावरा क्रुद्ध होना। मनोहर के रोज़ – रोज़ स्कूूल विलम्ब  से आने पर हेडमास्टचर साहब के तेवर चढ़ गए हैं।
तेवर बदलना, मुहावरा अप्रसन्नन होना/ पहले जैसा संबंध न रहना। काम निकलते ही मनोहर के तेवर बदल गए।
तोते की तरह पढ़ना, मुहावरा बिना समझे रटना। इस तरह तोते की तरह पढ़ोगे तो दिमाग खाली का खाली ही रह जाएगा।
तोते की तरह ऑंखें बदलना/तोताचश्मीन, मुहावरा बे-मुरौवत होना, रूखाई दिखाना। मनोहर से काम था पर मुझे देखते ही उसने तोते की तरह ऑंख बदल दिया।
त्यौारी में बल पड़ना, मुहावरा क्रुद्ध होना। मनोहर जैसे दुष्ट  व्युक्ति को देखते ही मेरे त्यौहरी में बल पड़ गया।
त्राहि –त्राहि करना, मुहावरा प्राणरक्षा के लिए गिड़गिड़ाना। बंगाल में अकाल के मारे मनुष्यत त्राहि-त्राहि पुकार रहे हैं।
थाली का बैंगन, मुहावरा अपना लाभ –हानि देखकर इधर –उधर होने वाला मनुष्यत। मनोहर पर कभी विश्वा स नहीं करना वह तो थाल का बैंगन है।
थाह लेना, मुहावरा पता लगाना, अन्दारज करना। ईश्वनर की कारीगरी की थाह लेना बड़ा कठिन है।
थू-थू करना, मुहावरा बुरा कहना।कहना।तुमने झुठी गवाही दी इसलिए सब जगह तुम्हा री थू-थू हो रही है।
थूकना भी नहीं, मुहावरा अत्यान्त, घृणा करना। मैं उस धन पर थूकता भी नहीं जो दूसरों का गला घोटकर जमा किया गया हो।
दंग रह जाना, मुहावरा चकित रह जाना। उनके आजपूर्ण भाषण को सुनकर जनता दंग रह गई।
दबे पॉंव निकलना/आना, मुहावरा चुपचाप चले जाना। मुझे कुद महत्व पूर्ण काम था इसलिए क्लाजस से मैं दबे पॉंव निकल आया।
दम आ जाना, मुहावरा फिर से जीना, शक्ति आ जाना। उनके सभा में शामिल होने से सभा में दम आ गया।
दम घोटना, मुहावरा 1.सॉंस न लेने देना 2. तंग आ जाना। 1. पॉंच-पॉंच कम्बआल ओढ़े हो दम नहीं घुटेगा क्याल ? 2. रोज़ –रोज़ की लड़ाई से मेरा दम घुटता है।
दम फूलना, मुहावरा सॉंस तीव्र गति से चलना। भाई 225 सीढियों को चढ़ते-चढ़ते मेरा तो दम फूलने लगा। 
दम भरना, मुहावरा मित्रता का पक्काे विश्वा2स होना। नरोत्तढम बाबू वैसे तो मित्रता का दम भरते थे परन्तुी विपत्ति पड़ने पर किनारा कर गए।
दम साधना, मुहावरा चुप होना। आप तो ज़रा – सी बात के लिए दम साध गए, मुझे आप से यह आशा न थी।
दम लगाना, मुहावरा गांजे या चरस का धुऑं खींचना। चरसी यार किसके, दम लगाया खिसके। 
दम सूखना, मुहावरा ज्याूदा भय से सॉंस तक न लेना। शेर को देखकर मेरा दम सूख गया ।
दम मारने की फुर्सत न होना, मुहावरा ज़रा भी समय न होना। इस परियोजना के हाथ में लेने के बाद तो मुझे दम कारने की भी फुर्सत नहीं मिलती।
दम के दम में , मुहावरा अति शीघ्र। यह काम तो कुछ भी नहीं, इसे मैं दम के दम में कर दूँगा।
दर –दर मारा फिरना, मुहावरा सहायता के लिए जगह –जगह भटकना। ईमानदारी से नौकरी करना, यदि डुट गई तो दर-दर मारा फिरना होगा।
दॉंत गड़ाना या दॉंत लगाए रहना, मुहावरा लेने की गहरी चाह में रहना। वह तो मेरी इस पुस्तीक पर दॉंत लगाए हुए है, लेकर ही पीछा छोड़ेगा।
दॉंत निकालना, मुहावरा व्यतर्थ हँसना। मनोहर तुम्हें  र्शम नहीं आती जब देखो वक्तह –बेवक्ती दॉंत निकालते रहते हो ?
दॉंव चूकना, मुहावरा   अच्छेच अवसर को गँवाना। अब तो दॉंव चूक ही गया, फिर कभी देखा जायेगा। 
दॉंव ताकना, मुहावरा मौका ढूँढ़ना । मैं भी दॉंव ताक रहा हूँ , मौका पाते ही सब अगली-पिछली निकाल दूँगा।
दाना – पानी , मुहावरा जीविका, भाग्य  – संयोग-संयोग। इस शहर से मेरा दाना –पानी उइ गया है क्यों कि मेरा स्था्नंतरण अब असम में हो गया है। 
दाने – दाने को तरसना, मुहावरा भोजन न मिलना। कोलकात्तास में हज़ारों तनुष्यौ दाने –दाने को तरस रहे हैं।
दाल – रोटी चलना , मुहावरा जीविका निर्वाह होना। मेरी मासिक पेंशन से दाल रोटी चल रही है।
दाहिना हाथ , मुहावरा बड़ा भारी सहायक। मिस्टेर देसाई गॉंधी के दाहिने हाथ थे।
दिन को दिन और रात को रात न समझना, मुहावरा अपनी चिन्ताऔ न करना। इनकी बीमारी में मैंने दिन को दिन और रात को रात नहीं समझा और सेवा की।
दिन दहाड़े, मुहावरा बिल्कुाल दिन के समय। दिन दहाड़े ही मुम्बेई में बैंक को लूट लिया गया।
दिन पूरे होना, मुहावरा अन्तिम समय समीप होना। दसकी हालत बहुत खराब है । अब तो वह अपने दिन गिन रहा है।
दिन काटना, मुहावरा समय बीताना। वह तो अगले माह सेवानिवृत्त। होने है। बस अपने दिन काट रहा है।
दिन फिरना, मुहावरा अच्छेि दिन आना। नौकरी मिलते ही उसके दिन फिर गए।
दिन भारी होना, मुहावरा समय का कठिनता से बीतना। अब यहॉं नहीं रहा जाता । यहॉं रहना एक –एक भारी हो रहा है।
दिमाग़ खाना, मुहावरा व्यार्थ की बात कहना।अपना काम देखो। मेरा दिमाग़ मत खाओ।
दिमाग खाली करना, मुहावरा मगज़ पच्ची  करना। इसे पढ़ना अपना दिमाग़ खाली करना होगा।
दिमाग़ चढ़ना, मुहावरा अधिक अभिमान होना। आजकल मनोहर के दिमाग़ चढ़े हैं । उससे नाहक बात करते हो।
दिमाग़ लड़ाना, मुहावरा बहुत सोचना। बहुत दिमाग़ लड़ाने के बाद उसे मुयरबत से बचाने की युक्ति सूझी है।
दिल का गवाही देना, मुहावरा मन से किसी बात की पूर्ण आशा होना। मेरा दिल गवाही दे रहा है कि की इस परियोजना के लिए हमें पुरस्काइर अवश्य  प्राप्त् होगा।
दिल की दिल में रहना, मुहावरा आशाऍं पूरी नहोना। रूपये के अभाव से कुछ न कर सका। दिल की दिल में ही रह गई।
दिल को लगाना, मुहावरा हृदय पर प्रभाव पड़ना। उसकी बातें मेरी दिल को लग गई , अब मैं कैसे भी परीक्षा प्रथम श्रेणी से उत्तीतर्ण करूँगा।
दिल जमना, मुहावरा चित्तम लगना। काम में तो तुम्हांरा दिल जमता ही नहीं हर समय खेल का ध्यारन रहता है।
दिल तड़पना, मुहावरा चित्तड व्या।कुल होना। क्षितिज को देखने के लिए अब तो दिल तड़पता है।
दिल देखना, मुहावरा दिल की थाह लेना। हमें यह नहीं चाहिए, हम तो केवल तुम्हअरा दिल देखना चाहते थे।
दिल न लगना, मुहावरा किसी काम में चित्तम न लगना। शहर में मेरा दिल न लगता है।
दिल भरना, मुहावरा इच्छार पूरी होना/ ऊब जाना। दश्हलरी आम खा- खा कर मेरा दिल भर गया है।
दिल मिलना, मुहावरा अनुकूल होना। जब मेरा और आपका दिल मिला हुआ है तो काम में बाधा आने का प्रश्नम ही नहीं आता है।
दिल में घर कर जाना, मुहावरा प्रेम पात्र होना। तुम अब तो मेरे दिल में घर कर गए हो।
दिल में फफोले पड़ना, मुहावरा मन में दु:खी होना। दिल में फफोले पड़ रहे हैं, मन की बात किससे कहूँ।
दिल चीर कर देखना, मुहावरा दिल का हाल मालूम करना।लो, मेरा दिल चीर कर देख लो , तब ही तुम्हे‍ विश्वा स होगा मेरी बात का।
दिल मैला करना, मुहावरा शंका, संदेह करना अथवा निराश होना । दिल मैला न करो , सब ठीक हो जायेगा।

दीन दुनिया को भूल जाना, मुहावरा बिलकुल बेखबर होना। धन के घमंझ में मनोहर दीन – दुनिया को भूल गया है।
दीया लेकर ढूंढना, मुहावरा बहुत छान-बीन करना। दीया लेकर भी ढूंढ़ोगे तो उसके जैसा अच्छा  लड़का नहीं मिलेगा।
दुकान लगाना, मुहावरा बिक्री के लिए वस्तु एं सजा कर रखना। नौ बज गए हैं दुकान लगा दो । ग्राहक आने का समय हो गया है।
दुकान बढ़ाना, मुहावरा दुकान बन्दन करना। रात के 11 बज गए है अब कोई ग्राहक आने से रहा, दुकान बड़ा दो।
दुखड़ा रोना, मुहावरा अपने दु:ख को कहना। दिन भर अपना दु:खड़ा रोने से अच्छार है कि कुछ काम करो।
दो टूक बात, मुहावरा संक्षिप्तत पर स्परष्टु बात। हमें तो दो टूक बात पसंद है, हॉं कहो अथवा नहीं।
दुनियॉं की हवा लगना, मुहावरा संसार की चाल ढाल का अनुकरण करना। शहर आते ही मनोहर को दुनियॉं की हवा लग गई है।
दुनिया भर का , मुहावरा बहुत अधिक। ज़रा – सा काम बिगाड़कर दुनिया भर का झगड़ा मोल लेना पड़ा।
दुनिया से चल बसना, मुहावरा मर जाना। सेठ रामदासजी कल इस दुनिया से चल पड़े।
दुम दबाकर भागना, मुहावरा डर के मारे भागना। बिल्ली  को देखते ही चूहे दुम दबाकर भाग गये।
दुह लेना, मुहावरा सत या सार खींच लेना। भारत वर्ष सोने की चिडिया था पर विदेशी आक्रमणकारियों ने इसे दुह लिया और निर्धन देश बनाकर छोड़ दिया।
दुर्वासा का रूप धारण करना, मुहावरा बहुत क्रोध करना। उनहोंने तो आते ही दुर्वासा का रूप धारण कर लिया।
ईद का चॉंद/दूज का चान्दह होना, मुहावरा कभी-कभी या काफी समय अन्तहराल के बाद दिखाई देना। शादी के बाद तो आप दूज के चॉंद हो रहे हो ।
दूध के दॉंत टूटना, मुहावरा अनुभव न होना। अभी तो तुम्हा रे दूध के दॉंत नहीं टूटे हैं कयों बढ़ाई मार रहे हो ?
दूर की बात , मुहावरा कठिन काय्र को सोचना, आगे की बात। आपके पिताजी बड़े ज्ञानी पुरूष हैं, बड़ी दूर की बात सोचते हैं।
दूर रहना, मुहावरा बचते रहना। भाई, मैं तो हमेशा ऐसी बातों से दूर ही रहता हूँ।
देखते रह जाना, मुहावरा हक्का - बक्काो रह जाना, किंकर्त्त व्य विमूढ़ हो जाना। मुन्नाम के हाथ से चील दौना ले गई और वह देचाता ही रह गया।
देखना - सुनना, मुहावरा पता लगना। आपने मेरे बच्चे, की बाबत कुछ देखा- सुना।
दो कौड़ी का आदमी, मुहावरा तुच्छड व्यरक्ति। मनोहर से अपना संबंध न रखो वह दो कौड़ी का आदमी है।
दौड़- धूप करना, मुहावरा अधिक परिश्रम करना। इतनी दौड़ – धूप करने पर भी चोरों का पता न लगा।
धज्जियॉं उड़ाना, मुहावरा किसी व्य क्ति या उसके कथन में दोष को निकालना। भाषण देते वक्ती संतोष में मनोहर की धज्जियॉं उड़ा दी।
धता बताना, मुहावरा चलता करनार (तिरस्का़र के साथ) मैंने आते ही उसे धता बता दिया।
धर दबाना, मुहावरा पकड़ लेना। मैंने फौरन ही चोर को धर दबोचा।
धाक जमना, मुहावरा ऐसा प्रभावित करना कि लोग महत्ताब स्वी कार करें। सूचना प्राद्यौगिकी के क्षेत्र में पूरे विश्वं में भारतीयों की धाक जमती है। 
धुन का पक्का , मुहावरा लगन से कार्य करने वाला। संतोष शब्दतकोश बनाने में अवश्यर सफल होगा क्यों कि वह धून का पक्काश है।
धोखे की टट्टी, मुहावरा भ्रम में डालनेवाली तत्व  - रहित वस्तु्।उनका छूआ-छूत का आडम्ब र तो धोखे की टट्टी है । उनका असली रूप आप नहीं जानते।
न इधर का न उधर का , मुहावरा किसी काम का न रहना। बच्चे  को स्कूोल से निकलवा के दुकान में बैठा दिया । अब वह न तो ठीक से दुकानदारी करता है और पढ़ाई तो छूट ही गई। इसी को कहते हैं न इधर का रहना न उधर का ।
नज़र करना , मुहावरा 1. देखना  2. भेंट करना। 1. यदि उधर को फिर नज़रकी भी तो देखना क्याठ होता है ? 
2. देखो जी मेरी सारी कमाई गहने और कपड़े के ही नज़र कर दी।
नज़र दौड़ाना, मुहावरा चारों तरफ देखना। लक्ष्‍मण ज़रा नज़र दौड़ा कर देखो, कही सीता दिखाइ्र देती है।
नज़र हो जाना, मुहावरा कृपा दृष्टि होना। केवल आपकी नज़र होनी चाहिए, मेरा कमा खूब चल निकलेगा1 
नज़र लगाना, मुहावरा बुरी दृष्टि का प्रभाव पड़ना। इस बच्चे  को ऐसी नज़र लगी है कि अच्छाक ही नहीं रहता।
न तीन न तेरह में, मुहावरा किसी की गिनती में न होना। आप न तीन में न तेरह में, लेकिन बात ऐसी बढ़- बढ़ कर मारते हैं कि आपका कोई जवाब नहीं।
नदी – नाव संयोग, मुहावरा संयोग से मिलना। तुलसी या संसार में भॉंत-भॉंत के लोग, सबसे हिल –मिल बोलिये नदी –नाव संयोग।
नमक खाना, मुहावरा किसी का दिया हुआ खाना और अहसानमनद रहना। मेरा नमक खाकर भी तुमने मुझे धोखा दिया। 
नमक मिर्च लगाना, मुहावरा छोटी सी बात को बहुत बढ़ा – चढ़ाकर कहना। मनोहर तुमने छोटी सी बात को नमक मिर्च लगाकर पेश किया जिससे उन दोनों में झगड़ा और बढ़ गया।
नस –नस में , मुहावरा सारे शरीर में। तुम्हाडरी नस-नस में कुटिलता भरी हुई है।
नाक कटना , मुहावरा बदनामी होना। ज़रा सी गलती होने से तुम्हा-रा कुछ न बिगड़ा किन्तु  मेरी नाक कट गई।
नाक की सीध में, मुहावरा बिल्कु ल सामने । बस नाक की सीध में चले जाओ, नगर परिषद कार्यालय पहफूंच जाओगे।
नाक - भौंह चढ़ाना, मुहावरा घृणा करना। असंतोष प्रकट करना। भाई जो कुछ दिया खुशी से ले लो , नाक – भौंह क्योंय चढ़ाते हो ? 
नाक पर म3क्खीर न बैठने देना, मुहावरा अपने पर आँच न आने देना या धब्बान न लगने देना। कपिल कभी अपनी नाक पर मक्खी  बैठने देगा , वह बहुत सोच –समझ कर काम करता है।
नाक में दम करना, मुहावरा जिद्द करना। तुम्हा रे मारे तो मेरा नाक में दम है।
नाक़ रख लेना, मुहावरा इज्ज़रत बचा लेना। अब यदि तुम समाज में अपनी नाक रखना चाहते हो तो कोइ्र बड़ा दान –पुण्यज का काम करो।
नाच नचाना, मुहावरा जी चाहा काम करवाना। राजमंत्री ने महाराज को उनकी दुर्बलता के कारण नाच नचा रखा है।
नादिरशाही, मुहावरा कठोर अत्यानचार करना। मेरा खेत छिन गया, रूपया भी हाथ से गया, भाई जेल में है, आजकल नादिरशाही का जमानाहै, कहीं कोई सुनवाई नहीं होती।
नानी याद आना, मुहावरा कष्अ  का तीव्र अनुभव करना। जेल में जाते ही मनोहर को नानी याद आ गई।
नाम उठ जाना, मुहावरा नाम न रहना। भाई उसका तो अब जिक्र ही छोड़ दो उसका तो दुनिया से नाम उठ गया ।
नाम कमाना, मुहावरा प्रसिद्धि प्राप्तस कर लेना। प्रसाद जी ने अपनी कमायनी के कारण खूब नाम कमाया।
नाम चलाना, मुहावरा यादगार बनी रहना। नाम चलाना हे तो एक धर्मशाला बनवा दो।
नाम न लेना , मुहावरा दूर रहना। रहना। मनोहर का तों नाम न लेना, मैं उसका चेहरा नहीं देखना चाहता हूँ।
नाम मात्र का , मुहावरा केवल नामधारी। यह तो नाम मात्र का नेता है , काम पड़ने पर इधर-उधर बगलें झाँकने लगता है।
नाम डूबोना, मुहावरा कीर्ति अथवा यश का नाश करना। मनोहर ने अपनी काली करतूतों से अपने पिता का नाम डूबो दिया।
नाक पर बैठना, मुहावरा आसरा लगाकर बैठना। वह तो भगवान के नाम पर दुकान खोलकर बैठा हुआ है।
नाम बाकी रहना, मुहावरा मरने के बाद नाम रह जाना। धन जमा करके क्या  करोगे , परोपकार करो,केवल नाम बाकी रह जाता है।
नाम मिटना, मुहावरा बिलकुल भूल जाना। इस दुनिया में कई महान व्य्क्ति हुए हैं पर मृत्युन के बाद कुछ वर्षों में सबके नाम मिट जाते हैं।
नाम रखना, मुहावरा बुराई करना। तुम ज्यामदा नहीं खाना खाना, नहीं तो तुम्हा रा नाम रखेंगे।
नाम लगना, मुहावरा झूठा अभियोग लगाया जान1 चोरी तो और ने की , राधेलाल का नाम लगाया गया।
नाम से , मुहावरा चर्चा से । इसके नाम से ही मेरी तबियत घबराती है।
नाम ही नाम रह जाना, मुहावरा सिवा नाम के सब कुछ नष्टह हो जाता है। भाई अब श्यारमलाल का तो नाम ही रह गया। 
नींद हराम होना, मुहावरा व्यदर्थ जागना, सोने न दिया जाना।इस खॉंसी ने ने तो रात की नींद हराम कर दी।
नीचा दिखाना, मुहावरा घमंड तोड़ना। आज के मैच में नरोत्तरमदास ने सबको नीचा दिखा दिया। 
नीयत खराब होना, मुहावरा  लालच में पड़ जाना। कमरे में सोने की एक जंजीर देखते ही मनोहर की नियत खराब हो गई।
नींव डालना, मुहावरा आरम्भड करना। स्वाममी दयानन्दंने आर्यसमाज की नींव डाली।
नुक्ताा –चीनी करना, मुहावरा छिद्रान्वेेषण करना, दोष निकालना।आलोचक प्रत्येमक लेख पर कुछ न कुछ नुक्ता *चीनी किया करते हैं।
नौबत बजना, मुहावरा आनन्दब या उत्सुव होना। स्वनराज मिलने पर घर –घर में नौबत बजी।
पद पड़ना, मुहावरा मनदा पड़ना। महँगी वस्तुाऍं होने से दुनिया के बहुत से काम पट पड़े हैं।
पट्टी पढ़ाना, मुहावरा गलत रास्तेन पर चलने को तैयार करना। मनोहर मुझे पट्टी पढ़ा रहा था कि मैं अधिकारी से झगड़ा कर लूँ पर मैं वैसा नहीं करूँगा।
पते की कहना,मुहावरा मार्के की बात कहना। पंडित जी पागल हैं तो क्याय है किन्तु़ बात पते की करते हैं।
पत्थकर का कलेजा होना, मुहावरा अत्यकन्ता कठोर हृदय होना। जनरल साहब ने पत्‍थर का कलेजा कर अपने लड़के को लड़ाई के मोर्चे पर लड़ने हेतु तैनात किया 
परछाई से डरना, मुहावरा बहुत डरना। तुम्हा रा दिल बहुत कमज़ोर है जो हाकिम की परछाई से भी डरते हो।
परदा डालना, मुहावरा किसी बात को छिपाना। ज्यामदा किस्सार न बढ़ाओ अब इस पर परदा डालो।
पलक लगना, मुहावरा नींद आना। डाक्टार साहब, इनकी पलक अभी लगी है इन्हेंद जगाइये नहीं।
पल्लाआ भारी होना, मुहावरा पक्ष बलवान होना। मनोहर तुम संतोष की कितनी ही बुराई करो फिर भी उसका पल्ला‍ भारी ही रहेगा।
पल्लाब छुड़ाना, मुहावरा छुटकारा पाना। हे भगवान, इस आफत से तो मेरा पल्लाा छुड़ाइये।
पहाड़ टूटना, मुहावरा अधिक विपत्ति में पड़ना। पति के मर जाने से बेचारी के ऊपर पहाड़ टूट पड़ा।
पॉंव उखड़ जाना, मुहावरा हार कर भाग जाना। विपत्तियों के कारण जीवन में अच्छेे-अच्छेा पुरूषों के पैर उखड़ जाते हैं।
पॉंव जमीन पर न टिकना, मुहावरा घमंड करना। सरला तो पास होने से पॉंव जमीन पर भी नहीं रखती।
पॉंव धोकर पीना, मुहावरा बहुत आदर करना। अगर वे आएं तो मैं उनके पैर धोकर पीऊँ।
पॉंव में बेड़ी पड़ना, मुहावरा स्ववतंत्रता नष्ट  होना। विवाह होते ही मैंरे पॉंव में बेड़ी पड़ गई।
पानी की तरह बहा देना, मुहावरा अम्य न्तह बेपरवाही से र्खच करना। मनोहर ने अपनी सारी सम्प़त्ति पानी की तरह बहा दी।
पानी के मोल , मुहावरा बहुत सस्ताल। कन्ट्रोाल होने से यह कपड़ा तो मैंने आपको पानी के मोल दे दिया।
पानी –पानी होना, मुहावरा 1. अत्य न्त‍ नम्र होकर बात करना 2. लज्जित होना /पिघल जाना। 1. पुत्र की शक्ल  देखते ही उसका सारा गुस्साे जाता रहा और वह पानी-पानी हो गया। 2. अपने पुत्र की करतूत सुनकर वह शर्म से पानी-पानी हो गया।
पाप कटना, मुहावरा झगड़ा दूर होना। मनोहर एक-एक उपद्रव खड़ा करता था, चला गया तो अच्छा  हुआ, पाप कटा।
पाप मोल लेना, मुहावरा जान बुझकर किसी बखेड़े में फँसना। मैंने तो यह बात बताकर एक नया पाप मोल ले लिया।
पापड़ बेलना, मुहावरा दु:खमय जीवन व्यमतीत करना। उसको लम्बीर बीमारी के कारण बड़े पापड़ बेलने पड़े। उठने – बैठने को मोहताज था।
पार लगाना, मुहावरा पूरा करना। झटपट इस काम को पार लगा दो।
पार पाना, मुहावरा अन्तप पाना। ईश्ववर की सत्ता। का पार पाना बहुत कठिन है।
पाला पड़ना, मुहावरा काम पड़ना। उच्छे, से पाला पड़ा , दिमाग चाट गया।
पिंड छूटना, मुहावरा पीछा छूटना। भगवान किसी प्रकार इससे पिंड छुड़ाये तो काम बने।
पीछे पड़ना, मुहावरा किसी बात के लिए लगातार कहते रहना, किसी को बार –बार हानि पहुँचाने की कोशिश करना, किसी काम को करने पर तुल जाना। आज रमेंश को नौकरी दिला परया हूँ, वह बहुत दिनों से मेरे िपीछे पड़ा था कि कुछ काम दिलावाइये। मैंने तुम्हाेरा क्याि बिगाड़ा हे जो तुम मेरे पीछे पछ़े हुए हो। तुम क्योंल उसे नुकसान पहुँचाने के लिए उसके पीछे पड़े हो।
पीठ ठोकना, मुहावरा लड़ाई से भाग जाना। महाराण पव्रताप ने कभी शत्रुओ को पीइ नहीं दिखाई।
पीठ पीछे, मुहावरा गैरहाजिरी में । मनोहर तो मेरी पीठ पीछे निन्दाु करता है।
पीठ फेरना, मुहावरा भाग जाना, उपेक्षा करना । रानी सारन्धा  ने अपने पति को रण भूति से पीठ फेर कर आया जान बहुत धिक्कावरा। रावण को देखकर माता सीता जी ने पीठ फेर ली।
पुराना घाघ, मुहावरा बहुत दिनों का अनुभवी। वे तो पुराने घाघ हैं सहज घोख नहीं खएंगे।
पुल बॉंधना, मुहावरा बढ़ाचढ़ाकर कहना। आपने तो मेरी तारीफों के पुल बॉंध दिए।
पूरा न पड़ना, मुहावरा काम न चलना, संतोष न होना। तुम्हेंब रूपया तो दे दूँ पर तुम्हेंी कभी पूरा प पड़ेगा।
पेच घुमाना, मुहावरा तरकीब से मन फेरना, दूसरे को प्रेरित करना। राजा साहब बेचारे क्याप करते ? रानी साहिबा ने जैसा पेच घुमा दिया वैसा वे कहने लगे।
पेट का पानी न पचना, मुहावरा कहे बिना न रहना। आपके पेट में पानी नहीं पचता , कहकर भी क्या‍ करूँ।
पेट की आग, मुहावरा भूख। पेट की आग बुझाने के लिए ही मुझे दूसरे राज्या में जाकर नौकरी करनी पड़ती है।
पेट भरकर, मुहावरा इच्छापनुसार। जो कुछ कहना है पेट भरकर कह लो।
पेट में दाढ़ी होना, मुहावरा देखने में सीधा और छोटा , पर चालाक होना। इसके पैट में लम्बीक दाढ़ी है , देखने में ही छोटा है।
पेट में बात न पचना, मुहावरा कोई बात गुप्त  न रखना।आपके पेट में तो बात पचती नहीं , आपका कोइ्र क्या। विश्वा स करे। 
पैर जमाना, मुहावरा स्थिर होकर रहना। नौकरी की है तो पैर जमाकर रहो।
पोल खोलना, मुहावरा दूसरों की कमजोरियों को प्रकट करना। आप क्यार मेरा मजाक करते हैं? मैं अभी आपकी सारी पोल खेलता हूँ।
पौने सोलह आने, मुहावरा अधिकतर , करी-करीब/ आपकी बातें पौने सोलह आने ठीक है , मुझे विश्वाेस है।
पौ फटना, मुहावरा प्रात:काल होना। पौ फटते ही उसके प्राण –पखेरू उड़ गए।
पौ बारह होना, मुहावरा प्रसन्न ता होना। भाई आजकल तो उसकी पौ बारह है – अच्छीठ नौकरी जो लगी है।
प्राण निकलना, मुहावरा दम सूचाना, अत्यंलत दु:ख होना। रूपया देने की बात सुनते ही उसके प्राण निकलने लगते हैं।
प्राण-पखेरू उड़ जाना, मुहावरा मर जाना। पौ फटते ही उसके प्राण –पखेरू उड़ गए।
प्राण मुँ‍ह को आना, मुहावरा हार्दिक कष्ट‍ होना।शरीर में पीड़ा के कारण उसके प्राण मुॅह को आ गए।
प्राण हथेली पर लिए रहना, मुहावरा  जीवन को कुछ न समझना। सैनिक अपने प्राण हथेली पर रखकर ही विजय पाते हैं।
प्राणें पर बीतना, मुहावरा जीवन संकट में पड़ना। आजकल मँहगाई के मारे बेचारे निर्धनों के प्राणों पर बीत रही है।
फट जाना, मुहावरा बहुत दर्द होना। दर्द के मारे सिर फटा जा रहा हे।
फड़क उठना, मुहावरा आनन्दित होना। रण भेरी सुनकी चूड़ावत की भूजाएं फड़कने लगी।
फल पाना, मुहावरा किये का बदला मिलना। जैसा करोगे वैसा ही फल पाओगे।
फलना-फूलना, मुहावरा भाग्यकवान होना। हमारी शुभ-कामनाऍं है कि , तुम सदा फलो –फुलो।
फुस –फुस करना, मुहावरा धरे-धीरे मंत्रणा करना। फुस-फुस करना बुरा लगता है स्पुष्टै बात करो।
फूँक देना, मुहावरा कान भरना,बहकाना। स्त्री  ने ऐसे कान फूँक दिये हैं कि मॉं-बाप की तो वह एक नहीं सुनता।
भगीरथ प्रयत्न  करना, मुहावरा किसी काम को पहले-पहल और बड़े परिश्रम से करना। आ.नि.बोर्ड के लिए द्विभाषी ऑन- लाइन शब्दुकोश तैयार करने के लिए हमें भगीरथी प्रयत्नब करना पड़ा।
फूँक-फूँक कर कदम रखना, मुहावरा सोच –समझ कर काम करना। ज़माना खराब है, फूँक-फूँक कर कदम रखना चाहिए।
फूट –फूट कर रोना, मुहावरा बहुत रोना। पुत्र की मृत्युा सुनकर गांधारी फूँट- फूँट कर रोने लगी।
फूटी ऑंख न देखना, मुहावरा ज़रा भी अच्छाख न लगना। सौत के बच्चों  को तो यह फूटी ऑंख भी नहीं देख सकती।
फूल जाना, मुहावरा नाराज़ होना। आखिर किस बात पर इतने फूल रहे हो।
फूल सूँघकर रहना, मुहावरा बहुत कम खाना। आप तो आजकल फूल सूँघकर रहते हैं।
फला न समाना, मुहावरा अत्यनन्त, आनदिन्तू होना। नन्द  बाबा कृष्ण  की बाल – लीला को देखकर फूलेन समाते थे।
फेर में आना, मुहावरा चक्कमर में आना। योगी महात्मा  होते हुए भी आप संसार के फेर में कैसे आ गए।
फोकट का , मुहावरा मुफ्त का । आप तो इस पुस्त क को ऐसे लिये जाते है जैये फोकट का है।
बगलें झॉंकना, मुहावरा उत्तंर न दे सकना।अफ़सर के एक दो सवाल में ही मनोहर बगलें झॉंकने लगा।
बगलें बजाना, मुहावरा प्रसन्नजता प्रकट करना।धर्मेन्द्रव की यह दशा देखकर मनोहर और उसके मित्र बगलें बजाने लगे। 
बगुला भगत, मुहावरा कपटी । तुम तो बिलकुल बगुला भगत हो । तुम्हाारा क्या  भरोसा ?
बछिया का ताऊ, मुहावरा मूर्ख । तुम तो बछिया के ताऊ हो । कुछ समझते ही नहीं।
बड़ी – बड़ी बातें करना, मुहावरा डींग मारना। हम तुम्हाबरी असलियत जानते हैं, क्योंा बड़ी-बड़ी बातें करते हो ?
बना –बनाया खेल बिगड़ जाना, मुहावरा पूर्ण काम बिगड़ जाना। उसके आने से सारा बना- बनाया खेल बिगड़ गया।
बना रहना, मुहावरा जीता रहना। मुझे कुड नहीं चाहिए, मेरा तो नाम बना रहेगा तो सब कुछ है।
बरस पड़ना, मुहावरा क्रद्ध होकर एक साथ मन में आयी सब बातें कह बैठना। बहुत दिनों से चुप बैठा इसकी हरकते देख जा रहा था। आज देखा न गया बरस पड़ा ।
बराबर करना, मुहावरा गँवा देना, नष्टम कर देना। उसने जुऍं में सारी सम्पेत्ति बराबर कर दी।
बला लगाना, मुहावरा आफत खड़ी कर देना। इस कुत्तेा को यहॉं से ले जाओ, कहॉं से मेरे सिर बला लगा दी।
बलि चढ़ना, मुहावरा मारा जाना। अकाल में कितने ही देशवासी भूख की वेदी पर बलि चढ़े।
बल्लियॉं उछलना, मुहावरा खूब खुश होना। पुत्र जन्मे की बात सुनकर राजा साहब बल्लियों उछलने लगे।
बॉंह पकड़ना, मुहावरा अपनाना। बॉंह पकड़े की लाज रखियेगा।
बाग-बाग होना, मुहावरा अत्यनन्तह खुश होना। पुत्र के प्रथम श्रेणी से पास होने की बात सुनकर माता –पीता का हृदय बाग-बाग हो गया।
बाग मोड़ना, मुहावरा किसी ओर घुमना। जहॉंगीर बिन्कुरल नूरजहॉं के बश में था जिधर भी चाहो उधर ही बाग मोड़ दी।
बॉंछे खिल जाना, मुहावरा प्रसन्नि होना। गरीब को रूपये मिलते ही उसकी बॉंछें खिल गई।
बाज़ी ले जाना, मुहावरा आगे ले जाना। भाई इस युद्ध में तो रूस बाज़ी ले ही गया।
गया।बात का बतंगड़ करना, मुहावरा छोटी बात को बढ़ा देना। आपने तो व्यूर्थ ही बात का बतंगड़ कर दिया।
बात का धनी , मुहावरा वायदे का पक्का़। यह गरीब है तो क्यात है , बात का धनी है।
बात की बात में , मुहावरा बहुत जल्दी । बात की बात में उसने टूटी हुई मशीन सँभाल दी।
बात पर जाना, मुहावरा विश्वा स करना। आप किसकी बात पर जा रहे हैं। मनोहर बिल्कु।ल नाकाबिल व्यधक्ति है।
बात बढ़ाना, मुहावरा झगड़ा बढ़ाना। जाओ अपना काम करो , अधिक बात बढ़ाना ठीक नहीं है।
बात मुँह पर लाना, मुहावरा चर्चा करना। अफसोस है कि आप ऐसी छोटी बात मुँह पर लाए।
बाल पकना, मुहावरा बाल सफ़ेद होना, कोई काम करते उग्र बीत जाना।उसके असी काम में बाल पके हैं । तुम उसकी बराबरी नहीं कर सकते।
बाल-बाल बचना, मुहावरा हानि होन में थोड़ी कसर रह जाना। रमेश कल साइकिल से ठकराने से बाल-बाल बच गया। 
बाल भी बॉंका न होना, मुहावरा ज़रा भी हानि न होना। मेरे रहते वह तुम्हासरा बाल भी बॉंका नहीं कर सकता है।
बालू की भीत, मुहावरा शीघ्र नष्टत होनेवाला। सांसारिक ऐश्प‍र्य तासे केवल बाले की भीत ही होता है।
बीड़ा उठाना, मुहावरा जिम्मेउदारी लेना। सकतावतों ने बुन्देपलों के मुकाबले राजगढ़ जीतने का बीड़ा उठाया ।
बेगार टालना, मुहावरा बे-मन काम करना। अगर तुम इस काम को नहीं कर सकते तो मना कर दो, बेगार क्योंा टालते हो ?
बबेड़ा पार करना, मुहावरा संकट से मुक्त  करना। भगवान ही इस भवसागर से बेड़ा पार लगाने वाले हैं।
बे-पर की उड़ान, मुहावरा झूठी बात फैलाना। हरि तो सदा बे- पर की उड़ाता है , उसकी बात में कुछ सार नहीं होता।
बे-सिर पैर की बात, मुहावरा व्यीर्थ बोलना। हमेशपा बे- सिर –पैर की बात क्यों  करते हो, शांत रहा करो।
बोझ उठाना, मुहावरा किसी कठिन कार्य का भार लेना। यदि वे चाहे तो इन दोनों की पढ़ाई का बोझ उठा सकते हैा।
बोल-बाला होना, मुहावरा प्रसिद्ध होना, प्रभावशाली होना। आजकल रूपये वालों का बोल –बाला है।
बोझ उतारना, मुहावरा कठिन कार्य से छुट्टी पाना। रानी का विवाह होने से मेरे सिर का बोझ उतर गया।
भंडा फोड़ना, मुहावरा पोल खोलना। यदि मैं चाहूँ तो तुम्हा रा भंडा अभी फोड़ सकता हूँ।
भनक पड़ना, मुहावरा सुनाई पड़ना। मेरे कान में तो ज़रा भनक पड़ी थी क्याअ यह बात सच है ?
भारी लगना, मुहावरा असह्य होना। आपको मेरा यहॉं रहना भी भारी लगता है।
भिगी बिल्ली  बनना, मुहावरा भय से दब जाना। मास्टंर साहब के आते ही मनोहर भिगी बिल्लीच गन गया।
भूत चढ़ना, मुहावरा एक साथ हठी बन जाना। ऐसा क्या‍ भूत चढ़ गया है जो स्कूबल भी नहीं जाते हो ?
मक्खीथ चूस , मुहावरा अधिक कंजूस। सेठजी तो पूरे मक्खी  चूस हैं, किसी को एक पैसा भी नहीं देते हैं।
मक्खीक पर मक्खीर मारना, मुहावरा (मक्षिका स्थारने मक्षिका) जैसी की तैसी नकल करना। नक्ल  करने में उसने अक्ल  का काम नहीं लिया , केवल मक्खीक पर मक्खीर मार दी।
मगज़-पच्ची  करना , मुहावरा बहुत दिमाग लगाना। इतना मगज़ – पच्ची  करने पर भी बचाव का कोई रास्ताल नहीं निकला।
मज़ा चखाना, मुहावरा दण्ड  देना। कल मैंने उसे अच्छान मज़ा चखाया।
मन के लड्डू मन में खाना, मुहावरा मन ही मन में प्रसन्ना होना। मनोहर मन के लड्डू मन में ही खाओगे कि हमें भी कुछ बताओगे।
मनमानी करना, मुहावरा जो इच्छाम हो सो करना। इस धर में मेरी कोई नहीं सुनता , सब अपनी मनमानी करते हैं।
मरने की भी फुरसत न होना, मुहावरा बिल्कुाल फुरसत न होना। त्यौधहारों में दुकानदारों के पास मरने की भी फुरसत नहीं होती है।
मर मिटना, मुहावरा बरबाद होना। इस लड़के के पीछे तो हम मर मिटे लेकिन इसकी बीमारी का पता नहीं लगा।
मरम्म त करना, मुहावरा मारना-पीटना, दुरूस्ता करना। इस लडके की रोज़ मरम्मलत होती है लेकिन शैतानी में कोई कमी नहीं आयी। इस दुकान की मरम्मटत करनी होगी। 
मरे को मारना, मुहावरा दु:खी को दु:ख देना। मरे किसान को महाजन का सूद और मार डालता है। मरे को मारना दुनिया में बहादुरी नहीं है।
माई का लाल, मुहावरा बली , सहासी । कौन माई का लाल है जो आज झंडा लेकर आगे बढ़े।
माथे मढ़ा जाना, मुहावरा जर्बदस्ती  गले आ जाना। दोष सदैव छोटे कर्मचारी पर मढ़ दिया जाता है।
माथे पर बल पड़ना, मुहावरा तेवर चढ़ना। मनोहर का रिपोर्टकार्ड पढ़ते ही पिताजी के माथे पर बल पड़ गया। 
मारा जाना, मुहावरा हानि उठाना। तुम्हाकरी ज़रा सी गलती के कारण मैं मारा जाऊँगा।
मारा-मारा फिरना, मुहावरा दुर्गति होना। पैसे के अभाव में बड़े-बड़े विद्वान मारे-मारे फिरते हैं।
माल मारना, मुहावरा अनुचित रीति से धन कमाना। बहुत से लोग मेले – ठेले में माल मारने ही जाया करते हैं।
मिट्टी के मोल , मुहावरा बहुत सस्ताम / पैसे न होने पर वस्तु  मिटृटी के मोल बिकती हुई भी महँगी जान पड़ती है।
मिट्टी खराब करना, मुहावरा दुर्दशा करना। उस उम्र में क्योंा ऐसे काम कर उपनी मिट्टी खराब करने में लगे हो ?
मिट्टी में मिलाना, मुहावरा बरबाद करना। सेठजी के मरते ही ही उनके लड़कों ने सारी जायदाद मिट्टी में मिला दी।
मिट्टी हो जाना, मुहावरा नष्टट हो जाना/ उसकी बेवकूफी से मेरा करा5धरा सब मिट्टी हो गया।
मुँह अंधेर, मुहावरा बिल्कुंल तड़के। मुँह अंधेरे ही वह ड्यूटी के लिए निकल जाता है।
मुँह की खाना, मुहावरा बुरी तरह परास्त  करना। भारत से पाकिस्ताकन को तीन –तीन युद्ध में मुँह की खानी पड़ी ।
मुँह ताकना, मुहावरा दूसरे पर आश्रित होना।  धन के अभाव में लेखकों को प्रकाशकों का मुँह ताकना पड़ता हे।
मुँह – तोड़ जवाब देना, मुहावरा अकाट्य उत्तपर देना। भारतीय सेना ने हमलावरों को मुँह- तोड़ जवाब दिया।
मुँह देखे का , मुहावरा ऊपरी, हार्दिक न होना। उसकी तो मुँह देखे की प्रीति है उसका क्या  विश्वा स करना ? 
मुँह धो डालना, मुहावरा योग्यध बनाना। पहले मुँह धो डालो तब खेल में मुझे हराने की सोचना।
मुँह फक हो जाना, मुहावरा मुँह पीला पड़ जाना। चोरी करते हुए पकड़ु जाने पर महरी का मुँह फक पड़ गया।
मुँह फूलना, मुहावरा नाराज़ होना। पढ़ते क्योंर नहीं मैं कुछ कहूँगा तो मुँह फूल जायेगा।
कमुँह फैलाना, मुहावरा अधिक लेने की इच्छा  करना। जो कुछ दे दिया खुशी से लो , अधिक मुँह फैलाना उचित नहीं होगा।
मुँह बनाना, मुहावरा ऐसी आकृति बनाना जिसे असंतोष प्रकट हो। कल से क्योंु मुँह बनाये बैठे हो ? क्याी बात है साफ-साफ कहो।  
मुँह में कालिख लगाना, मुहावरा बुरा काम करने पर कलंक लगना। मनोहर ने खेरी करके सो परिवार के मुँह पर कालिख लगा दी।
मुँ‍ह मीठा कराना, मुहावरा मिठाई खिलाना,खुश करना। मेरा यह काम कर दो , मैं तुम्हालरा मुँह मीठा करा दूँगा। 
मुँह में खून लगना, मुहावरा चसका लगना। अब शेर के मुँह में खून लग गया है वह जरूर फिर हमला करेगा।
मुँह मोड़ना, मुहावरा इन्कामर करना। विपत्तीर के समय घनिष्ठफ मित्र तथा नातेदार भी मुँह मोड़ लेते हैं।
मैदान हाथ आना, मुहावरा लड़ाई जीतना। युद्ध में राजपूतों के हाथ मैदान आ गया।
मोम का होना, मुहावरा दयार्द्र होना। दूसरों का दु:ख देखकर मेरा दिल मोम का हो जाता है।
मौत सिर पर खेलना, मुहावरा मृत्यु् के समीप होना। मंदोदरी ने रावण से हा कि मौत सिर पर खेल रही है अभी युत्र भूमि में न जाओ।
युग-युग, मुहावरा बहुत समय तक। युग-युग जियो बेटा यही हमारा आशीर्वाद है।
युग- युगान्तहर से , मुहावरा प्राचीन काल से युग-युगान्तसर से यह प्रथा प्रचलित है।
रंग उतरना, मुहावरा चेहरा पीला पड़ना। भेद खुलते ही उसके चेहरे का रंग उतर गया।
रंग में रंग जाना, मुहावरा प्रभाव पड़ना। आजकल के पढ़े –लिखे व्य क्ति पश्चिमी सभ्य ता के रंग में रंगे हुए हैं।
रंग जमना, मुहावरा खूब आनंद आना। उस दिन होली महोत्स व में रंग जम गया ।
रंग-ढंग, मुहावरा चाल-ढाल। उसके रंग-ढंग पर गौर करो। आजकल वह ठीक ढंग से बात तक नहीं करता।
रंग में भंग पड़ना, मुहावरा मज़ा किरकिरा होना। पिताजी के कमरे में आने से आज रंग में भंग पड़ गया।
रंग लाना, , मुहावरा अपना प्रभाव या गुण दिखाना।रंग लाती है हिना घिस जाने के बाद आदमी आदमी बनता है ठोकरें खाने के बाद।
रंगा सियार , मुहावरा धोखेबाज व्य क्ति , ढोंगी आदमी। उसके विश्वा स में न आओ , वह तो रंगा सियार है।
रग – रग जानना, मुहावरा  सब प्रकार से परिचित होना। तुम उसे क्याह जानो, मैं तो उसकी रग –रग से वाकिफ हूँ। 
रफू –चक्कचर होना, मुहावरा छिप जाना। पुलिस के आते ही डाकू रफू –चक्कवर हो गए।
रह जाना, मुहावरा थक जाना, बाकी बच जाना। चलते –चलते हमारे पैर भी रह गए , पर आपका मकान न मिला।
रह-रह के , मुहावरा थोड़े –थोड़े समय के बाद , घड़ी-घड़ी। मैंने उसकी मृत्युओ को भुलाना चाहा पर वह दृश्या रह-रह कर ऑंखें के सामने आने लगता है।
राई - काई हो जाना, मुहावरा मितर-बितर हो जाना। लाठी चार्ज की आज्ञा सुनते ही जनता राई- काई हो गयी।
रात-दिन, मुहावरा हमेशा। भाई, तुम किसके टँटे में पड़े, यह तो रात-दिन का गोरख धन्धाा है।
राम –कहानी, मुहावरा आत्मा- वृत्तु, आत्म, कहानी , जो ज़रा दु:ख भरी हो। सुन मेरी राम कहानी मेरी ही जुबानी। 
रास्ता  रास्ते  या राह पर लाना या आना, मुहावरा सुधारना यासुधर जाना। ठोकरें खाकर मनुष्यन स्वतयं रास्तेृ पर आ जाता है। 
रूखा-सूखा, मुहावरा अस्वानदिष्टज, मामूली भोजन । रूखा – सूखा खाय के ठण्डाा पानी पी , दौलत पराई देख कर क्योंी ललचाये जी।
रोम-रोम, , मुहावरा सारा शरीर। सीता के वियोग में राम का रोम-रोम दु:खी था।
रो-पीट कर , मुहावरा कठिनता से। आखिर रो-पीट कर मैंने यह काम खत्मद कर दिया है , आगे मुझसे न हो सकेगा।
लंका –कॉंड होना, मुहावरा खूब मार –पीट होना।मनोहर के छोटे भाई दिन भ घर में लंका-कॉंड मचाये रखते हैं।
लम्बीा –चौड़ी हॉंकना, मुहावरा डींग मारना, व्य़र्थ बातें करना। लम्बीय –चौड़ी हॉंकने से क्या। लाभ,  कुछ आता –जाता तो नहीं आपको ।
लट्टू होना, मुहावरा मस्तू होना, रीझ जाना।वह तो केवल घोड़े की चाल पर लट्टू हो गए, चुप चाप 8000 रूपये गिन दिए।
लड़ाई मोल लेना, मुहावरा झगड़ा करना। मुत तो जमाने से लड़ाइ्र मोल लिए रहते हो , मैं कहॉं तक निपठारा करता रहूँ ?
लपेट में आना, मुहावरा बिना अपराध फँस जाना, वहॉं मौजूद होने के कारण हम भी जुआरियों की लपेट में आ गए।
लहू के ऑंसू पीना, मुहावरा क्रोध सहना। गरीब होने के कारण बेचारा लहू के गर्म ऑंसू पीता था , किसी से कुछ नहीं कहता था।
लहू का घूँट पीना, मुहावरा क्रोध रोकना। मैं उस समय लहू का घूँट पीकर रह गया , वरना क्रोध तो ऐसा आया कि मारते - मारते मनोहर का दम निकाल देता।
लहू पसीना एक करना, मुहावरा बहुत परिश्रम करना। लहू –पसीना एक करने पर ही मानिक पैसे देता है इसनिए मन लगाकर काम करो।
लाल –पीला होना, मुहावरा क्रद्ध होना। शीघ्र ही काम खत्मह करो नहीं तो मानिक नाहक ही लाल – पीले होंगे।
लाग –लपेट रखना, मुहावरा संबंध रखना। मैं किसी से लाग – लपेट नहीं रखना चाहता हूँ।
लाले पड़ना , मुहावरा किसी चीज़ के लिए तरसना। अकाल के समय जनता में तो खाद्य पदार्थ के भी लाले पड़ गए थे।
लोहा बजना, मुहावरा युद्ध में शस्त्र  चलाना। महा भारत के युद्ध में कौरवों- पॉंडवों में खूब लोहा बजा।
लोहे के चने चबाना, मुहावरा कठिन काम । रूस को जीतना जर्मनी के लिए लोहे के चने चबाना है।
वचन निबाहना, मुहावरा वायदा पूरा करना। उसने मरते समय तक अपना वचन निभाया, अब तुम भी अपना वचन पूरा करो।
विष उगलना, मुहावरा कड़वी बात कहना। ऐसे पिष उगलने से क्याक लाभ , हिम्मबत हो तो सामने आओ।
शहद लगाकर चाटना, मुहावरा किसी निरर्थक वस्तुे को संभाल कर रखना। क्यों  इस पूराने टीवी. को शहद लगाकर चाट रहे हो ? इसे बेच क्यो  नहीं देते ?
शिकार  हाथ लगना, मुहावरा कोई ऐसा व्यलक्ति मिलना जिसके फँसने या वश में होने पर लाभ हो। अच्छाभ शिकार हाथ लगा है, अब चैन की छनेगी।
शिकार होना, मुहावरा मारा जाना, चोट खाना। बंगाल मेंअकाल में न जाने कितने मनुष्यच भूखा के शिकार हो गए थे।
शैतान के कान कतरना, मुहावरा अत्यनन्तन चालाक होना। रामकिशन बड़ी ख्लजती रकम है, अभी से शैतान के कान कतरता है।
श्रीगणेश करना, मुहावरा आरम्भण करना।क्यों  लालाजी , इस दुकान का श्रीगणेश कब करोगे ?
सत्तूण बॉंधकर पीछे पड़ना, मुहावरा हाथ धोकर पीछे लगना। अब झगड़ा समाप्तक  करो, क्योंक सत्तूे बॉंध के इस बेचारे के पीछे पड़े हो ?
सन्नाोटा छा जाना, मुहावरा शान्तो हो जाना। तुम वहॉं तक गये भी नहीं , जो कुछ मुझसे आकर कहा वह सफेद झूठ है।
सब्ज़ो बाग दिखाना, मुहावरा लोभ देकर देसरे को बहकाना। उसकी बातों में न आना , वह तो केवल सबज़ बाग दिखाता है, देने –लेने के लिए उसके पास कुछ नहीं है।
समझ पर पत्थछर पड़ना, मुहावरा बुद्धि नष्टछ –भ्रष्टे होना। न जाने ऐसे समय कैसे मेरी समझ पर पत्थतर पड़ गया कि इस गोबर गण्‍ेश की बात मान ली।
सॉंस तक न लेना, मुहावरा (भय के कारण) कुछ न बोलना। उनके सामने तो लड़का सॉंस तक नहीं लेता , पर उनके पीछे तो शेर हो जाता है।
सात - पॉंच , मुहावरा कुछ लोग, छल- कपट। मुझसे ज्यामदा सात –पॉंच करोगे तो मार खाओगे।
सितारा चमकना, मुहावरा भाग्यो दय होना। आजकल उसका सितारा चमक रहा है,मुहल्लेत वाले भी उसका जी-जान से मदद कर रहे हैं।
सिक्का  बैठाना, मुहावरा आधिपतय जमाना। विजय ने सो तुहल्लेम में अपना सिक्कात बैटा लिया है मुहल्लेत वाले भी उसका जी-जान से मदद कर रहे हैं। 
सिर ऑंखों पर , मुहावरा आदर सहित मूजूर । आपकी आज्ञा हमारे सिर ऑंखों पर है, जान पर खेल कर भी उसे पूरा करेंगे।
सिर उड़ाना, मुहावरा सिर काटना। तलवार का एक ही ऐसा भसरपूर हाथ पड़ा कि दोनों दुशमनों के सिर उड़ गए । 
सिर के मोल, मुहावरा अमूल्य । सतीत्वह – रक्षा का सौदा प्रत्येोक क्षत्राणी सिर के मोल करने को तैयार होती है, इसका गौरव केवल भारत वर्ष को ही प्राप्ता है।
सिर खाना, मुहावरा व्य र्थ बातें पूछ – पूछ कर पेरेशान करना। भाई, मेरा सिर मत खाओ, तुम अपने काम से काम रखो।
सिर घूमना या भारी होना, मुहावरा सिर में पीड़ा होना। आज मुझेसे काम न हो सकेगा, न जाने क्यों  मेरा सिर घूम रहा है।
सिर चढ़ाना, मुहावरा बढ़ावा देना। आपके लाड़- प्याकर ने उसको सिर चढ़ा दिया है।
सिर झुकाना, मुहावरा प्रणाम करना, लज्जारवश गरदन झुका लेना, सत्ता  स्वीमकार करना। अपने पूज्यों  के सामने हमेशा सिर झुकाना चाहिए। चोरी खुलते ही उसने अपना सिर झुका लिया। राण प्रताप के सिवाय सब राजपूतों ने अकबर के सामने सिर झुका दिया था।
सिर देना , मुहावरा प्राणोत्सदर्ग करना। मातृभूमि की रक्षा के लिए प्रत्ये क नागरिक का कर्तव्ये है।
सिर धरना, मुहावरा आदर –सहित स्वीुकार करना। राम पिता की आज्ञा सिर धरकर बन चले गए।
सिर धुनना, मुहावरा पश्चाुत्ता्प करना1 पहले तो पढ़ा  नहीं अब फेल होकर सिर घुनने से क्याै लाभ ?
सिर नीचा होना, मुहावरा बेइज्ज़ात होना। तुम्हावरी इन काली करतूतों के कारण समाज में मेरा सिर हमेशा के लिए नीचा हो गया।
सिर पर आ जाना, मुहावरा बिल्कु ल नज़दीक आ जाना। परीक्षा सिर पर आ गई, अब तो ध्यामन लगाकर पढ़ो।
सिर पर खून सवार होना, मुहावरा जान लेने को तैयार होना। इस समय उसके सामने नहीं पड़ना उसके सिर पर खून सवार हे जाने क्याश कर बैठे ?
सिर पर भूत सवार होना, मुहावरा एक प्रकार का पागलपन सा होना। मनोहर के सिर पर डर का भूत सवार है मुझे भी अपने साथ पागल बना रखा है।
सिर पर लेना, मुहावरा उत्तपरदायित्वा लेना। इस काम का भार मैं अपने सिर पर लेता हूँ।
सिर पर हाथ धरना, मुहावरा मदद करना। इस बेचारे बालक का अब कौन है, तुम्हींप इसके सिर पर हाथ धरो।
सिर पीट लेना, मुहावरा रो-पीट कर रह जाना। जब करीम को उसके घर में चोरी होने का पता चला तो वह सिर पिट के रह गया।
सिर मढ़ना, मुहावरा जिम्मे़ लगना। क्यार किसी और ने भी दोष मेरे सिर मढ़ दिया है ?
सिर मारना, मुहावरा बहुत कोशिश करना।मैंने इसके साथ इतना सिर मारा पर इसने एक शब्दर नपढ़ा और अंत में फेल हो गया ।
सिर से पैर तक , मुहावरा आदि से अंत तक । कहॉं तक ठीक करूँ, इसमें तो सिर से पैर तक गलतियॉं ही हैं।
सिर से बला टालना, मुहावरा सिर से बेगार टालना। ज़रा तो चुप रहो , बड़ी मुश्किल से सिर से बला टली है , कहीं फिर न लौट आए।
सिर हिलाना, मुहावरा स्वीहकृति या अस्वीाकृति देना। मालिक ने उत्तर में केवल सिर हिला दिया , अब घर जाऊ या न जाऊ।
सिर होना , मुहावरा गले पड़ना, माथे मढ़ा जाना। तुम मेरे सिर क्योंु होते हो, मैं सच कहता हूँ कि मुझे इस बारे में कुछ भी नहीं मालूम।
सीधे मुँह बात न करना, मुहावरा घमंड करना। पास क्याा हो गये, किसी से सीधे मुँह बात भी नहीं करते हो ?
सौ बात की एक बात , मुहावरा सार, अर्थ , निचोड़। सौ बात की एक बात यह काम नहीं हो सकता क्योंतकि इस पर न्याुयालय ने रोक लगा दी है।
स्वााहा करना, मुहावरा भस्मा करना, आहुति डालना, नष्टक-भ्रष्टत करना। इस अकाल में बहुत से जन - जीव स्वा हा हो गए।
हँसते-हँसते, मुहावरा सहर्ष ,खुशी से । सच्चेन वीर हँसते – हँसते रण भूति में देश के लिए अपना बलिदान कर देते हैं।
हँसी उड़ाना, मुहावरा मज़ाक बनाना। मेरी हँसी उड़ाने से पहले इपना शक्लक तो देखो ।
हँसी में खसी होना, मुहावरा हँसी-हँसी में बिगाड़ हो जाना। अधिक हाथा-पाई का मज़ाक ठीक नहीं , कहीं हँसी में खसी न हो जाए।
हँसी होना, मुहावरा उपेक्षा होना , बदनामी होना। तुम्हािरे द्वारा इस लड़की से शादी करने से समाज में तुम्हा री हँसी होगी ओर लोग तुम पर ताने कसेंगे।
हक्कान-बक्काी रह जाना, मुहावरा आश्चार्य –चकित या भौचक्काा रह जाना। परीक्षा ठीक से दे नहीं पाया था किन्तुह परीक्षा फल घोषित होन पर राज्य  भर में प्रथम स्थामन पर आने का समाचार सूनकर क्षितिज हक्काप-बक्काय रह गया।
हज़म करना, मुहावरा अनुचित अधिकार करना , अेईमानी करना।उसके पिता के मरने पर उसकी सार संपत्ति उसके चाचा – ताऊ ने हज़म कर लिया। 
हज़ामत करना, मुहावरा ठगना, धोखे से प्राप्तआ करना। भगवान ऐसे लुटेरों के पाले न डाले , धूर्तों ने खूब हज़ामत बनाई और मारा –पीटा अलग से।
हड्डियॉं तोड़ना, मुहावरा अधिक मारना –पीटना। याद रखना , यदि फिर ऐसी शरारत की तो हड्डियॉं तोड़ दूँगा।
हराम का , मुहावरा अनुचित रूप से प्राप्तु किया गया। मेरा पैसा हराम का नहीं है। मेहनत से कमाया हुआ है ।
इवाई महल बनाना, मुहावरा ख्या ली मनसूबे बॉंधना। यों ही हवाई महल बनाने से क्यां होता है , कुछ काम –धाम करो।
हवा उड़ना, मुहावरा खबर फैलना। सेठजी के पकड़े जाने की हवा सारे शहर में उड़ रही है।
हवा का रूख देखना, मुहावरा परिस्थिति के अनुकूल चलना। हवा का रूख देखकर बात करनी चाहिए, आजकल ज़माना खराब हे।
हवा खाना, मुहावरा शुद्ध वायु सेवन। महात्माव जी प्रात: ही हवा खाने के लिए निकल पड़ते हैं।
हवा बॉंधना, मुहावरा झूठी बड़ाई करना। अरे भाई तुम तो कोरी हवा बॉंधना जानते हो, कुछ भी करना–धरना नहीं है क्याा 
हवा से बातें करना, मुहावरा बहुत तेज चलना। बाबा भारती का घोड़ा चलते हुए हवा से बातें करता था । 
हॉं में हॉं मिलना, मुहावरा खुशामद करने के तौर पर दूसरे की हॉं में हॉं मिलाना। तुम तो केवल दूसरों की हॉं में हॉं मिलाना जानते हो , तुम्हा री गैरत तो है ही नहीं। 
हॉंडी पकना, मुहावरा गुप्ताप परामर्श होना या गुप्त  षड्यन्त्र। रचा जाना। इतने दिनों से भीतर यह हॉंडी पक रही थी । इसका मुझे गुमान नहीं नहीं था।  
हाथ उठाना या छोड़ना, मुहावरा मारने को तैयार होना या मारने लगना। जब मनोहर ने मुझ पर हाथ उठाया तो तो मुझसे भी न रहा गया और मेरा भी हाथ उठ गया। 
हाथ का मैल , मुहावरा मामूली वस्तुउ। रूपया – पैसा तो हाथ का मैल है , जब मेहनत करेंगे फिर आ जायेंगे। 
हाथ पर हाथ धरकर बैठे रहना, मुहावरा खाली या निकम्मार बेठे रहना। हाथ पर हाथ धरकर कब तक बैठोगे, कुछ काम करो। कठिन समय कट ही जायेगा। 
हाथ खाली होना, मुहावरा पास में रूपया पैसा न होना। महिने के आखिरी तारीख के करीब बाबू लोगों का हाथ प्राय: खाली होता है। 
हाथ खींचना, मुहावरा सहायता देना बंद करना। उससे सहायता की अपेक्षा मत रखों कब हाथ खींच लेगा तुम्हेर पता भी नहीं चलेगा। 
हाथ जोड़ना, मुहावरा प्रणाम करना, प्रार्थना करना, नाता तोड़ना।मैं आपसे हाथ जोड़कर कर क्षमा मॉंगता हूँ। तुम जैसे आदमी से तो भाई हाथ जोड़ता हूँ। 
हाथ डालना, मुहावरा कार्य आरम्भह करना। किसी काम मे हाथ डालने से पूर्व अच्छीम तरह सोच –विचार कर लेना चाहिए।
हाथ तंग होना, मुहावरा कम धन होना। भाई मेरा हाथ तंग है वरना मैं तुम्हें  और 5 हजार रूपये दे देता। 
हाथ धो बैठना, मुहावरा खो देना , नष्टम होना, हानि होना। यदि तुम ऐसा करोगे तो लड़के से भी हाथ धो बैठोगे धन तो गया ही। 
हाथ धोकर पीछे पड़ना, मुहावरा बुरी तरह पीछे पड़ना। मैंने तुम्हाुरा क्या  बिगाड़ा है जो तुम मेरे पीछे हाथ धोकर पड़े हो ?
हाथ पकड़ना, मुहावरा सहायता देना। एक बार प्रभु हाथ पकड़ लो, मन का दीप जलाऊँ मैं।
हाथ- पैर जोड़ना, मुहावरा दीनता से विनती करना। उनके सामने हाथ-पैर जोड़ो तो कुछ काम भी बने ।मेरी खुशामद करने से कुछ नहीं होगा। 
हाथ बँटाना, मुहावरा काम में सहायता करना। मुझे सब काम खुद ही करना पड़ा ज़रा हाथ बँटाने को भी कोई न आया। 
हाथ में होना, मुहावरा वश में होना। मनोहर तो हमारे हाथ में है, जैसा कहेंगे वैसा ही करेगा।
हाथ लगना, मुहावरा मिलना , छुआ जाना, किसी काम का शूरू करना। यह किमती वस्तुस मुफ्त में ही हाथ लग गई। मेरे भोजन को किसी ने हाथ लगा दिया तो मैं नहीं खाऊँगा। आपका हाथ लग गया है तो काम सफल हो ही जायेगा। 
हाथा-पाई, मुहावरा मार-पीट , लड़ाई झगड़ा। मज़ाक –मज़ाक में हाथा-पाई की नौबत आ गई। 
हाथों हाथ बिकना, मुहावरा बहुत जल्दीब या फौरन बिक जाना। सुरेश की दुकान के कपड़े हाथों- हाथ बिक गए। 
हाथों –हाथ लेना, मुहावरा आदर से स्वािगत करना। विजयी टीम के सदस्योंक का एयरपोर्ट पर हाथों- हाथ स्वा गत किया गया। 
हामी भरना, मुहावरा स्वी कार करना। महाप्रबंधक महोदय ने कर्मचारियों को समयोपरि देने के लिए हामी भर दिया।
हिसाब करना, मुहावरा देने –लेने का हिसाब चुकता कर देना।तुम अपना हिसाब चुक्ताि कर लो । कल से तुम काम पर नहीं आना। 
हुक्काक – पानी बंद करना, मुहावरा बिरादरी से निकाल देना। हड़ताल के दिनों में जो काम करेगा उसका हुक्कार-पानी बन्दन कर दिया जायेगा। 
हुक्मर चलाना, मुहावरा आज्ञा देना। बैठे-बैठे क्याु हुक्मम दे रहे हो ? तुम भी आकर काम क्यों  नहीं करते ?
हृदय में गुदगुदी होना, मुहावरा मन ही मन खुश होना। कान्हाा के मथुरा लोटने का समाचार सुनते ही मथुरा वासियों के हृदय में गुदगुदी होने लगी। 
होश उड़ना, मुहावरा सुध-बुध-भूल जाना। सिपाही को देखकर जुए खलनेवालों के होश उड़ गया। 
होश ठिकाने होना, मुहावरा उचित दण्डे पाकर भूल पर पछताना। अभी लाला जी को अपने धन का धमण्ड  है, जेल में जाते ही होश ठिकाने आ जायेंगे। 
 

2 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत अच्छा लगा,प्रयास सराहनीय है. आपको बधाई और सलाम.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. Parineeti Chopra Fucking Nude And Her Ass Riding Many Style




      Aishwarya Rai Naked Enjoys Sex When Cock Riding On Ass And Pussy Pics




      Hot desi indian busty wife ass fucked in dogy style




      Sunny Leone Took Off Bikini Exposing Her Boobs And Fingering Pussy Fully Nude Images




      Gopika Nude Showing Her Navel And Boobs Sitting Her Bed Picture




      Horny Chinese couple sucking and fucking




      Busty desi indian naked girl Secretary naked pics in office




      Porn Star Sunny Leone Latest New Harcore Fucking Pictures




      Pakistani College Girls Cute Shaved Pussy And Soft Big Boobs




      Nude karisma kapoor Bollywood nude actress Wallpaper





      Indian Girl Have A Big black Dick In Her Blcak Tite Big Ass And Pussy




      Desi Indian Naughty Wife Oilly Pussy And Hot Young Ass Fuck




      Bollywood film actress Ayesha Takia showing her Big White Boobs and Nipples




      Busty Indian Call Girl Pussy Licked In 69 Position And Fucked MMS 2




      Hot Indian Desi Sexy Teacher Tara Milky Boobs Round Ass Fucking




      9th Class Teen Cute Pink Pussy Girl Having First Time Fucked By Her Private Teacher




      Indian Actress Shruti Hassan Hardcore Fucked Nude Pictures




      Shriya Saran Removing Clothes Nude Bathing Wet Boobs And Shaved Pussy Show




      Sexy South Indian university girl nude big boobs and wet pussy




      Hot Neha Dhupia Semi Nude Bathing And Showing Her Wet Bikini Photos




      Horny Sexy Indian Slim Girl Gauri Shows You Her Small Boobs And Hairy Pussy




      Bombay Huge Breasts Bhabhi Barna Nude posing And Sucking Cock After Fucking Hard




      Cute Indian sexy desi teen showing her small boobs and hairy pussy

      हटाएं