गुरुवार, 18 फ़रवरी 2010

हिन्‍दी मुहावरा संग्रह ऑ से औ तक

हिन्‍दी मुहावरा संग्रह ऑ से औ तक
ऑख आना,मु. ऑंख दुखना न जाने, किसी चीज़ ने काट लिया है, ऑख आ गई है। 
ऑख उठाना,मु. सामने ताकना ऑख उठाकर देखो, यह कौन खड़ा है। 
ऑख उठाकर न देखना,मु. तिरस्कारर करना हम आए और उसने ऑख उठाकर भी न देखा। 
ऑख का कॉंटा,मु. शत्रु मित्र भी कभी-कभी ऑख का कॉंटा बन जाते हैं। 
ऑंख का काजल,मु. अत्यकन्त, प्रिय उसका प्रेमी उसकी ऑंख का काजल बना हुआ है। 
ऑंख का तारा,मु. बहुत प्याररा इकलौता बेटा विधवा मॉं की ऑंख का तारा है। 
ऑख खुलना,मु. 1.सावधान होना 2.भ्रम दूर होना 1.चुनाव में हारने के बाद नेताओं की ऑंख खुली।
2.मैं उस पर बहुत विश्वादस करता था पर उसकी इस करतूत से मेरी ऑंख खुल गई।
ऑंख मारना,मु. इशारा करना उसने ऑख मारी और मैं समझ गया कि और अधिक पैसे नहीं देना है।  
ऑंख रखना,मु. निगरानी करना मेरा सामान यही पड़ा है। ज़रा ऑख रखना। 
ऑंख लगना,मु. झपकी आना रात 2 बजे तक जागता रहा। फिर ज़रा ऑंख लग गई। 
ऑंखे चार होना,मु. आमने-सामने होना ऑखे चार होते ही वह शर्मा गई। 
ऑंखे तरेरना,मु. क्रोध से देखना वह ऑंख तरेरकर बोली- चल हटयहॉं से दूर हो। 
ऑखे नीची होना,मु. लज्जित होना तुम्हा री करतूत से मेरी ऑखें नीची हो गई। 
ऑंखें पथरा जाना,मु. ऑंखें थक जाना तुम्हाथरी प्रतीक्षा में ऑखे पथरा गई। 
ऑंखें फेर लेना,मु. प्रतिकूल होना मेरी किस्मोत बिगड़ी तो कई मित्रों ने ऑखें फेर ली। 
ऑखें बिछाना प्रेम से स्वाागत करना दुलहिन वरमाला पहनाने के लिए ऑखें बिछाए खड़ी थी।
ऑंखें मूँदना,मु. मर जाना बाप ने ऑखें मूँदीं और बेटों ने जायदाद का बटवारा कर लिया। 
ऑंखों का काजल चुराना,मु. गहरी चोरी कर लेना गार्ड सोते रहे और चोर सेठजी की ऑंखों का काजल चुरा ले गए।
ऑंखों का पानी ढलना,मु. निर्लज्ज  होना अब जो वह बड़ों का भी नहीं सुनता/ उसकी ऑंखों का पानी ढल गया है।
ऑंखों पर चर्बी चढ़ना,मु. अहंकार से ध्या न तक न देना तुम अब क्यों  पहचानोगे। ऑंखों पर चर्बी चढ़ गई है ना। 
ऑंखों में खून उतरना,मु. गुस्सेम से ऑंखें लाल हो जाना गुंडे की हरकत देखकर मेरी ऑखों में खून उत्रब आया। 
ऑंखों में गढ़ जाना,मु. 1. पाने की इच्‍छा होना 2.बुरा लगना 1.शिल्पीन की बनाई मूर्ति मेरी ऑंखों में गड़ गई। 
2.उसका बढ़ता ऐश्वकर्य पड़ोसी की ऑंखों में गड़ गया।
ऑंखों मे धूल झोकना,मु. धोखा देना ठग उसकी ऑंखों में धूल झोंककर बटूआ ले गया। 
ऑंखों में सरसों फूलना,मु.  विवेक न होना क्याक तुम्हा री ऑंखों में सरसों फूली है कि अपना भला-बुरा नहीं सोच सकते।
ऑंखों से गिरना,मु. आदर भाव घट जाना जब उसने वह कुकर्म किया। वह मेरी ऑखों से गिर गया है । 
ऑंच न आने देना,मु. ज़रा सा भी कष्ट् नहीं आने देना शत्रु से मैं निपट लूँगा। तुम पर ज़रा सा भी ऑंच नहीं आने दूँगा। 
ऑंचल पकड़ना,मु. सहारा लेना जब तुम्हाारा ऑंचल पकड़ लिया है तो मुझे क्या  चिन्ताअ है। 
ऑंचल पसारना,मु. याचना करना साहब, मैं ऑंचल पसार कर बिनती हूँमेरे बच्चे‍ की जिन्दलगी बचा लो। 
ऑंधी के आम,मु. सस्तीक चीज़ें अरे भैया, ये ऑंधी के आम हैं, हर मान पॉंच रूपए में ले लो। 
ऑंसू पीकर रह जाना,मु. भीरत ही भीतर रोकर चुप कर जाना बेटे की मौत पर पंडित जी ऑंसू पीकर रह गए। 
ऑंसू पोंछना,मु. ढाढस बँधाना बेचारे की मुसीबत में ऑंसू पोंछने वाला भी कोई न था।  
आकाश कुसुम,मु. अनहोनी बात आजकल ईमानदार नौकर आकाश कुसुम हो रहा है।
आकाश चुमना ,मु.
आकाश से बातें करना ,मु. बहुत ऊँचा होना दिल्लीँ की कुछ इमारते आकाश चुमती हैं।
आकाश पाताल एक करना,मु. कोई उपाय न छोड़ना घड़ी की खोज में मैंने आकाश पाताल एक कर दिया, पर नहीं मिली।
आग पर तेल छिड़कना,मु. और भड़काना दोनों में सुलह-सफ़ाई कराने के बजाए तुम तो लगे हो आग पर तेल छिड़कना 
आग पर पानी डालना,मु. झगड़ा मिटाना मैंने दोनों को समझा-बुझाकर आग पर पानी ढाल दिया और उनमें सुलह हो गई ।
आग पानी या आग और फूल का बैर होना,मु. स्वाैभाविक शत्रुता होना दोनों पार्टियों में सॉंप और नेवले में आग पानी का बैर है।
आग बबेला होना,मु. बहुत गुस्सान होना शिव धनुष टूटा तो परशु आग बबूला हो गया। 
आग में कूदना,मु. जान जोखिम में डालना हमारे जवान देश के लिए आग में कूदने को तैयार रहते हैं। 
आग लगने पर कुऑं खोदना,मु. पहले से काई उपाय न कर रखना मकान आधा तैयार हे और अब कहते हो बैंक से ऋण लेना चाहता हूँ – आग लगने पर कुऑं खोदते हो।
आग लगाकर तमाशा देखना मु. ,मु. झगड़ा पैदा करके खुश होना  बुरे लोग पड़ोसियों में आग लगाकर तमाशा देखते हैं। 
आगा-पीछा करना ,मु. हिचकिचाना अनाथों की सहायता करने में आगा-पीछा नहीं करना चाहिए। 
आगे का पैर पीछे पड़ना ,मु. किस्मेत उलटी होना मैं जो भी काम करता हूँ आगे का पैर पीछे पड़ता है। 
आटा गीला होना ,मु. विपत्ति में पड़ना एके के बाद दूसरी, दूसरी के बाद तीसरी मुसीबत, मेरा आटा गीला हो गया है।  
आटे के साथ घुन पीसना ,मु. दोषी के साथ निर्दौष की भी हानि होना  साथ में इस गरीब लड़के को क्योंस फँसा रहे हो । आटे के साथ घुन पिस रहा है। 
आटे दाल का भाव मालूम होना मु. दुनियादारी ज्ञात होना घर गृहस्थी  बसाओगे तो आटे दाल का भाव पमालूम हो जाएगा। 
आठ-आठ ऑंसू रोना ,मु. बहुत पछतावा होना पत्नीप को तलाक देने के बाद आठ-आठ ऑंसू रोता था। 
आड़े आना ,मु. मुसीबत में सहायता करना कृष्णत यदि द्रौपदी के आड़े नहीं आते तो उसकी लाज कैसेट बच पाती। 
आड़े हाथों लेना मु. बातो से लज्जित कर देना बहस में मैंने विरोधी को आड़े हाथों लिया। 
आधा तीतर बाध बटेर ,मु. बेमेल काम चप्पलल के साथ पैंट,पैंट के ऊपर कुर्ता, यह क्याो, आधा तीतर आधा बटेर। 
आपे से बाहर होना ,मु. क्रोध से अपने वश में न रहना अधिकांश अफसर जरा सी बात पर आपे से बाहर हो जाते हैं। 
आ बनना ,मु. मुसीबत पड़ना जब मेरे सिर पर आ बनी तो किसी ने सहायता नहीं की। 
आव न देखा ,मु. बिना कारण आव न देखा ताव उसने अकारण ही बच्चेह को पीटना शुरू कर दिया। 
आवाज़ उठाना मु. विरोध प्रकट करना अब महँगाई के बारे में काई आवाज़ नहीं उठाता। 
आसन डोलना ,मु. विचलित होना धन और स्त्री  पाने के लिए बड़ों –बड़ों का आसन डोल जाता है। 
आसमान के तारे तोड़ना,मु. असंभव कार्य करना तुम्हाकरी इच्छाा पूर्ति के लिए आसमान से तारे भीतोड़ लाउँगा। 
आसमान टूट पड़ना,मु. अचानक विपत्तिआ पड़ना बेटा दुर्घटना में मारा गया। बेचो पर आसमान टूट पड़ा। 
आसमान पर चढ़ा देना,मु. बहुत तारीफ करना लोगों ने अपनी गर्ज से नेता को आसमान पर चढ़ा दिया है। 
आसमान पर दिमाग होना,मु. बहुत घंमडी होना नाटरी क्या  पायी । उसका दिमाग आसमान पर हो गया है।
आसमान फट पड़ना,मु. अचानक आफ़त आ पड़ना तेरा सत्या नाश हो, भगवान करें तेरे ऊपर आसमान फट पड़े। 
आसमान सिर पर उठाना,मु. बहुत हो-हल्ला  मचाना बच्चोंो, शांति से बैठो, क्योंप आसमान सिर पर उठा रखा है । 
आस्तींन का सॉंप,मु. विश्वाोसघाती मित्र मैंने उसकी भरसक सहायता की, कई बार, पर वह आस्ती़न का सॉंप निकला।
इतिश्री होना,मु. अंत होना लाला लाजपत राय के निधन के साथ ही पंजाब में एक युग की इतिश्री हो गई। 
इधर- उधर की हॉंकना ,मु. व्यार्थ की बातें करना बड़ा गप्पीत हैद्य जब देखो इधर-उधर की हॉंकता रहता है। 
इधर की उधर लगाना/करना,मु. चुगली करके भड़काना इसका विश्वाभस न करना । यह तो इधर की उधर और इधर की उधर लगाती रहती है। 
ईशारों पर नाचना,मु. किसी की इच्छानओं का तुरंत पालन करना कैसा आदमी है । अपी पत्नी  के इशारों पर नाचता है। 
ईंट का जवाब पत्थपर से देना,मु. किसी के आरोपों का करारा जवाब देना मानव अधिकारों के हनन पर बहस में भारत ने पाकिस्तानन को ईंट का जवाब पत्थार से दिया।
ईंट से ईंट बजाना,मु. विनाश करना हमारे योद्धदओं ने शत्रु के देश में ईंटसे ईंट बजा दी। 
ईद का चॉंद होना,मु. बहुत दिनों बाद दिखाई देना न जाने तुम कहॉं चले गए थे। तुम तो ईद का चॉंद हो गए। 
उँगलियों पर नाचना,मु. किसी की इच्छााओं का तुरंत पालन करना कैसा आदमी है । अपी पत्नी  के इशारों पर नाचता है। 
उँगली उठाना ,मु. निंदा करना नेकनियती से काम करते चलो ताकि कोई उँगली न उठाए। 
उँगली पकड़ते पहुँचा पकड़ना,मु. ज़रा सा सहारा मिलते ही कुइ और पाने की लालसा करना पहले तो किराए पर मकान लिया, अब मालिक बनने की ताक में हो, यानी उँगली पकड़ते पहुँचा पकड़ना चाहते हो । 
उगल देना,मु. भेद खोल देना पुलिस ने पिटाई की तो उसने सारी बात उगल दी। 
उड़ती चिडि़या पहचानाना,मु. मन की बात ताड़ जाना मैं तुम्हातरी चालाकी समझ गया । मैं तो उड़ती चिडि़या पहचान लूँ। 
उड़न छू होना,मु. गायब हो जाना  मेरी कलम यहॉं पड़ी थी मिनटों में कहॉं उड़न छू हो गई। 
उधार खाए बैठना,मु. हठ करना तुम उससे बदला लेने को क्योंं उधार खाए बैठे हो।
उधेड़ बुन में पड़ना/रहना,मु. सोच-विचार करते रहना आजकल रमेश न जाने किस उधेड़-बुन में पड़ा रहता है । 
उन्नीरस पड़ना या होना,मु. कुछ घटकर होना भोलस कद में रमेश से उन्नीडस पड़ता है। 
उन्नीकस बिस्वा्,मु. अधिकांशत:  उसका कहना उन्नी स बिस्वाय सही है। 
उननीस-बीस होना,मु. बहुत थोड़ा अन्त र होना भोलू और रमेश रंग-रूप में उन्नीास – बीस होंगे। 
उबल पड़ना,मु. एकदम गुस्साश हो जाना मास्टगरजी ज़रा सी गलती पर उबल पड़ते हैं। 
उल्टीग गंगा बहाना,मु. उलटा काम करना राजभाषा अनुभाग में तैनात होकर तुम अंग्रेजी में कार्य कर रहे हो । यह तो उल्टीष गंगा बहाना है। 
उलटी पट्टी पढ़ाना,मु. और का और कहकर बहकाना न जाने उसको किसने उलटी पट्टी पढ़ा दी । वह किसी की नहीं सुनता है।
उलटी माला फरेना ,मु. अहित सोचना अपने पड़ोसी के नाम की उलटी माला फेरना बुरी बात है।  
उलट छुरे से मूँड़ना,मु. मूर्ख बनाकर ठग लेना किसान बेचो को लेखपाल ने उल्टेु छुरे से मूँड़ लिया। 
ऊँचे-नीचे पैर पड़ना,मु. बुराई में पड़ जाना  उठती जवानी में यही डर रहता है कि लड़के के पैर ऊँचे-नीचे न पड़ जाऍं। 
ऊँट का सुई की नोक से निकलना,मु. असंभव होना नंदू का परीक्षा में पास होना ऊँट का सुई की नोक से निकलना है। 
एक ऑख से देखना,मु. सबको बराबर समझना मॉं-बाप बच्चोंख को एक ऑंख से देखते हैं। 
एक-एक नस पहचानना,मु. सब कुछ समझना हमसे क्याए छिपाओ, हम तुम्हाखरी एक-एक नस पहचानते हैं। 
एक घाट का पानी पीना,मु. एकता और सहनशील होना राजा भोज के समय बकरी और शेर एक घाट का पानी पीते थे।
एक लकड़ी से सबको हॉंकना,मु. यथायोग्यल व्यनवहार न करना अन्यागयी शासक सबको एक लकड़ी से हॉंकता है। 
एक ही थैली के चट्टे-बट्टे ,मु. एक जैसे चरित्र ओर विचार के लोग  यह ठग और वह धोखेबाज़ , दोनों ण्क  ही थैली के चट्टे-बट्टे हैं।
एडि़यॉं रगड़ना ,मु. बहँत दौड़-धूप करना  बेचारा कई महीनों से नौकरी के लिए एडि़यॉं रगड़ता फिरता है। 
एड़ी-चोटी का पसीना एक करना,मु. घोर परिश्रम करना लड़की के लिए वर की तालाश में पंडित जी ने एड़ी-चोटी का पसीना एक कर दिया। 
ऐसी की तैसी करना,मु. दुर्दशा करना इसे तू रोज़ चिढ़ाता है । ठहर, तेरी ऐसी की तैसी करता हूँ। 
ओखली में सिर देना,मु. जोखिम मोल लेना तुम्हें  इस झगड़े में नहीं पड़ना चाहिए था । अब ओखली में सिर दिया है तो भोगो।
ओढ़नी बदलना,मु. पक्की  सहेलियॉं बनाना विभा और प्रभा ने आपस में ओढ़नी बदलकर सखीपन पर मोहर लगा दी है।
औंधी खोपड़ी,मु. मूर्खता तुम्हांरी औंधी खोपड़ी में अभी भी कुछ नहीं आया। 
औने-पौने करना,मु. थोड़ा-बहुत जितना लाभ हो बेच देना रछ्दी माल था। सो मैंने औने-पौने दाम में बेच दिया। 


2 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत अच्‍छा । उपयोगी जानकारी है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. अटजाना मुहावरे का क्या मतलब हे

    उत्तर देंहटाएं